May 26, 2022
CM योगी खो गये पुराने दिनों में, बचपन को किया याद

गलियों में घूमते हुए योगी आदित्यनाथ अपने बचपन की दिनों में खो गए

यमकेश्वर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री CM Yogi योगी आदित्यनाथ पांच वर्ष बाद अपने पैतृक गांव के दौरे पर हैं। अपने घर में रात्रि विश्राम के बाद बुधवार की सुबह योगी आदित्यनाथ ने अपने स्वजन के साथ गांव का भ्रमण किया, पूजा पाठ किया और ग्रामीणों से मुलाकात कर उनकी कुशलक्षेम पूछी।

बताते चलें कि योगी आदित्यनाथ मंगलवार को अपने गृह ब्लाक यमकेश्वर पहुंचे थे। जहां से वह अपने पंचूर स्थित गांव पहुंचे थे। रात को वह अपने पैतृक आवास में ही रुके, उनके लिए यहां एक कक्ष सुरक्षित रखा गया है। गांव में योगी आदित्यनाथ के भाई महेंद्र सिंह बिष्ट के बेटे के मुंडन संस्कार में भी शामिल हुए।

बुधवार की सुबह योगी आदित्यनाथ अपने नियमित समयानुसार उठे और नित्य कार्यों से निवृत्त हुए। वह अपने परिवार जन के साथ गांव के भ्रमण पर निकले। उन्होंने ग्रामीणों से मुलाकात कर उनके हालचाल जाने। इस बीच गांव में कई लोग योगी आदित्यनाथ को उनके पुराने नाम अजय कहकर पुकारते नजर आए। योगी आदित्यनाथ विनम्रता के साथ सभी से मुलाकात की।

वह बुजुर्गों को यह भी पूछते रहे कि क्या वह उन्हें पहचान रहे हैं। इस पर ग्रामीणों का कहना था कि उन्हें कौन नहीं जानता है, वह तो रोजाना उन्हें टीवी पर देखते हैं। जिसको योगी आदित्यनाथ मुस्कुराए बिना नहीं रह सके। गांव में भ्रमण के दौरान कई बच्चे उनके साथ फोटो खिंचवाने की जिद करते रहे।

सीएम योगी ने बुजुर्गों, बच्चों और ग्रामीणों से दिल खोल कर बातें भी की। छोटे-छोटे बच्चों से सीएम योगी उनकी पढ़ाई के बारें में पूछ रहे हैं। यहीं नहीं, बच्चों को ठीक ढंग से पढऩे की सलाह भी दे रहे हैं। हमेशा स्कूल जाने की नसीहत देने क साथ ही सीएम योगी बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना भी कर रहे हैं। उन्होंने गांव में बचपन में बिताए गए यादों को भी साझा किया। योगी ने गांव की व्यवस्था देखी। गांव वालों से स्कूल, बिजली, पानी आदि मुद्दों पर चर्चा भी की। वह गांव के दूसरे घरों में भी जाकर लोगों से उनका हालचाल जाना।

योगी आदित्यनाथ ने किसी को निराश नहीं किया और सहर्ष उनसे मुलाकात करते हुए फोटो भी खिंचवाई। गांव की गलियों में घूमते हुए योगी आदित्यनाथ अपने बचपन की दिनों में खो गए। भ्रमण के बाद योगी आदित्यनाथ अपने घर में भतीजे के मुंडन संस्कार में सम्मिलित हुए। उनसे मिलने वालों का लगातार तांता लगा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!