July 4, 2022
अग्निकांड मामला: 24 महिलाओं सहित 29 लोग लापता, परिजनों का बुरा हाल

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के मुंडका में एक व्यावसायिक इमारत में आग लगने की घटना के बाद व्याकुल परिजन अपने प्रियजनों की तलाश में बीती रात से कभी अस्पताल तो कभी थाने और कभी घटनास्थल के चक्कर काट रहे हैं। इस घटना में अब तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है।
बताया जा रहा है कि रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी टीमों को अंदर कुछ लोगों के अवशेष मिले हैं। इससे माना जा रहा है कि मृतकों की संख्या बढ़कर 30 तक पहुंच सकती है। फिलहाल रेस्क्यू ऑपरेशन को बंद कर दिया गया है।

इस हादसे के बाद पुलिस को अब तक 29 लोगों की मिसिंग कम्पलेंट मिली है, जिनमें 24 महिलाएं और 5 पुरुष शामिल हैं। मृतकों की शिनाख्त के लिए पुलिस ने उनकी डीएनए जांच कराए जाने का निर्णय लिया है। दिल्ली स्थित एफएसएल की टीम मौके पर पहुंचकर जांच में जुट गई है। संजीव गुप्ता की अगुवाई में फॉरेंसिक टीम मौके की फॉरेंसिक जांच करेगी।

मिसिंग लोगों की लिस्ट
सोनी कुमारी (35 वर्ष, महिला) पत्नी मनोज ठाकुर, तानिया (27 वर्ष, महिला) पुत्री चंद्र भूषण, नरेंद्र (26 वर्ष, पुरुष) पुत्र कन्हैया लाल, मोहिनी (38 वर्ष, महिला) पत्नी विजय पाल, पूजा (19 वर्ष, महिला) पुत्री राजेश, भारती देवी (42 वर्ष, महिला) पत्नी चमन , गीता देवी (42 वर्ष, महिला) पत्नी उपेंद्र सिंह, कैलाश जानी (55 वर्ष, पुरुष) पुत्र बहादुर सिंह, अमित जानी (34 वर्ष, पुरुष) पुत्र कैलाश जानी, मधु देवी (29 वर्ष, महिला) पत्नी अमित कुमार, मोनिका (21 वर्ष, महिला) पुत्री विजय बहादुर, यशोदा देवी (35 वर्ष, महिला) पत्नी विश्वजीत, मुस्कान (22 वर्ष, महिला) पुत्री इस्लामुद्दीन, स्वीटी (32 वर्ष, महिला) पत्नी मनोज कुमार, प्रवीन (33 वर्ष, पुरुष) पुत्र आशाराम, पूजा (19 वर्ष, महिला) बहन मोनी, मोहिनी (40 वर्ष, महिला) मां पीयूष, भारती नेगी (45 वर्ष, महिला) बहन वीरेंद्र नेगी, रंजू देवी (32 वर्ष, महिला) देवर राजकुमार, जशोदा देवी (34 वर्ष, महिला) पड़ोसी रवि कुमार, मधु (21 वर्ष, महिला) पुत्री राकेश, पूनम (19 वर्ष, महिला) पुत्री महिपाल, प्रीति (24 वर्ष, महिला) पुत्री महिपाल, निशा कुमारी (18 वर्ष, महिला) चाचा सुमन, विशाल (24 वर्ष, पुरुष) पुत्र मिथलेश, मधु (24 वर्ष, महिला) चाचा अकन, गीता चौहान (45 वर्ष, महिला) पत्नी रामभवन, सोनम (20 वर्ष, महिला) भाई अनुराग व आशा (30 वर्ष, महिला) भाई वीरपाल।

अपने प्रियजनों की तलाश में जुटे परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। उन्हें कहीं से कोई खबर नहीं मिल रही है। वह पुलिस और प्रशासन से अपनों को जल्द से जल्द खोजने की गुहार लगा रहे हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली सरकार की ओर से मुंडका अग्निकांड के मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है। इसके साथ ही सरकार ने मुंडका में हुए इस भीषण अग्निकांड की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो भी दोषी पाया जाएगा उसे कतई बख्शा नहीं जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!