July 3, 2022
प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर को मिली मेट्रो की सौगात, बजट का भी हुआ आवंटन

State Chief Yogi Adityanath’s stronghold Gorakhpur got the gift of Metro, budget was also allocated

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने आज (26 मई) को बजट 2022-23 पेश किया है। योगी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट है। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना द्वारा आज पेश किए गए इस बजट में पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी और सीएम योगी के गढ़ गोरखपुर को मेट्रो ट्रेन की सौगात दी है। इतना ही नहीं, वाराणसी और गोरखपुर में मेट्रो रेल शुरू करने के लिए 100 करोड़ रुपये के बजट का आवंटन भी किया है।

यूपी बजट 2022-23 पेश करते हुए वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने कविता भी पढ़ी। उन्होंने कहा… वह पथ क्या, पथिक कुशलता क्या जिस पथ में बिखरे शूल न हों नाविक की धैर्य परीक्षा क्या जब धाराएं प्रतिकूल न हो
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने आज विधानमंडल में करीब 6 लाख 15 हजार करोड़ रुपए का पहला बजट पेश किया है। वित्त मंत्री ने जो यूपी बजट 2022-23 पेश किया है उसमें बीजेपी के लोक संकल्प पत्र में किए गए वादों को पूरा करने की कोशिश की गई है। यूपी बजट 2022-23 पेश करने के दौरान वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि आज पेश होने वाला बजट यूपी के इतिहास का सबसे बड़ा बजट होगा। इस दौरान खन्ना ने कहा कि गन्ना मूल्य भुगतान में प्रदेश, देश में प्रथम स्थान पर है। सत्र 2017-2018 से 2021-2022 तक के सापेक्ष 16 मई, 2022 तक 1,72,745 करोड़ रुपए के गन्ना मूल्य का भुगतान कराया जो एक कीर्तिमान है।

पेश किए गए इस बजट में वित्त मंत्री ने पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी और प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर को भी मेट्रो की सौगात दी है। इतना ही नहीं, मेट्रो रेल शुरू करने के लिए 100 करोड़ रुपये के बजट का भी आवंटन किया गया है। वहीं, काशी विश्वनाथ राजघाट पुल के लिए 500 करोड़।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!