July 6, 2022

उत्तराखंड में कोरोना वायरस संक्रमण के चलते लगातार दूसरे वर्ष भी कांवड़ यात्रा रद कर दी गई है। ऐसे में अन्य प्रदेशों से श्रद्धालुओं के हरिद्वार जिल में आने की संभावना को देखते हुए पुलिस ने प्रदेश की सीमाएं सील करने की तैयारी शुरू कर दी है। वहीं, हरिद्वार जिले में धारा 144 लागू करने की भी तैयारी की जा रही है। इस संबंध में आदेश जिलाधिकारी ही जारी करेंगे।

बीते वर्ष भी कोरोना संक्रमण को देखते हुए कांवड़ यात्रा नहीं हुई थी। इस बार कोरोना वायरस की दूसरी लहर कहर बरपा चुकी है। ऐसे में सरकार ने कांवड़ यात्रा को स्थगित करने पर देर नहीं की। अब अन्य राज्यों से श्रद्धालु कांवड़ लेकर उत्तराखंड नहीं आ सकेंगे। बता दें कि श्रावण माह में उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और अन्य राज्यों से भारी संख्या में कांवड़ यात्री हरिद्वार, ऋषिकेश, गंगोत्री व नीलकंठ पहुंचते हैं।

डीआइजी अपराध एवं कानून व्यवस्था नीलेश आनंद भरणे ने बताया कि उत्तर प्रदेश, पंजाब, हिमाचल, दिल्ली व हरियाणा जैसे राज्य के विभागीय आलाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक कर कानून व्यवस्था सुदृढ़ करने की तैयारी की जा रही है। उन्होंने बताया कि कांवड़ यात्रा को लेकर अभी तक शासन की ओर से कोई लिखित आदेश नहीं आया है।

पिछले सप्ताह हुई वीडियो कांफ्रेंसिंग में सैद्धांतिक सहमति बनी थी कि कांवड़ यात्रा इस बार भी रद रहेगी। कांवड़ यात्रा के दौरान किस राज्य से कितने श्रद्धालु उत्तराखंड आते हैं, इसका डाटा राज्यों से मांगा जाएगा। इसके बाद ही स्पष्ट हो सकेगा कि किस बार्डर पर कितनी फोर्स लगाई जानी है। सभी राज्यों को संदेश भेजा जाएगा कि अपने नागरिकों को इस संबंध में जागरूक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!