August 12, 2022
Maharajganj: मनरेगा में घोटाला, दो माह पहले बनी थी लाखों की लागत से इंटरलाकिंग सड़क, पहली बारिश में ही टूटने लगी

Maharajganj: Scam in MNREGA, two months ago the interlocking road was built at the cost of lakhs, started breaking in the first rain itself

निचलौल-महराजगंज। निचलौल विकास खण्ड में मनरेगा में ऐसी अनियमितता सामने आयी है जिसमें पहली बारिश में ही इंटलाकिंग सड़क टूट कर गिरने लगी जब कि अभी पक्के कार्य का भुगतान हुआ ही नही है, अब देखना है इस भ्रष्टाचार में क्या कार्यवाही हो रही है।

मिली जानकारी के अनुसार निचलौल विकास खण्ड के ग्राम कैमी में मनरेगा योजना से प्रा0विद्यालय से रामानन्द के घर तक इंटलाकिंग सड़क का निर्माण हुआ है, इस इंटरलाकिंग सड़क के निर्माण में बेवसाइट के पर मौजूद मस्टरोल के अनुसार मार्च 2022 में 21 हजार रूपये व मई 2022 में 15 हजार रूपये के लगभग की मजदूरी खर्च किया गया है, जब कि जो जानकारी मिल रही है उसके अनुसार पक्के का यानी मैटेरियल का अभी भुगतान नही हुआ है और इंटरलाकिंग सड़क दो दिन पहले हुई पहली बारिश में ही टूट कर गिरने लगी है।

सबसे बड़ा सवाल तो यह है कि मार्च और मई 2022 यानी दो माह पहले ही बनी सड़क को किस तरह बनाया गया कि पहली बारिश में ही टूटने लगी है और आगे जो सड़क की स्थिति है टूट कर गिरने वाली हैैैै, इस सड़क पर लाखों रूपये का बजट होगा और अधिकारी इसकी गुणवत्ता पर ध्यान देने के बदले निगाहें कहीं और लगाये हुअए है जिसके कारण यह सड़क भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गयी।
जिलाधिकारी द्वारा लगातार ग्राम सभाओं में विकास कार्य के नाम पर हो रहे भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के प्रयास में अबतक कई विकास खण्डों में कार्यवाही कर चुके है ऐसे में माना जा रहा है इस मामले की भी जांच कर कार्यवाही होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!