October 2, 2022
छात्रा की मौत से गुस्साई भीड़ ने लगाई स्कूल की बसों में आग, 20 से अधिक पुलिसकर्मी घायल

Angry mob sets school buses on fire over student’s death, more than 20 policemen injured

तमिलनाडु। प्राइवेट स्कूल की बारहवीं कक्षा की छात्रा की हुई हास्टल में मौत के बाद विरोध प्रदर्शन आज रविवार को हिंसक रूप ले लिया और स्कूल की प्रॉपर्टी के साथ तोड़फोड़ करते हुए परिसर में खड़ी कई बसों में आग लगा दी, इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पथराव भी किया, जिसमें पुलिस उप महानिरीक्षक एम. पांडियन सहित 20 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो गए। प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हवा में फायरिंग भी किया।

बताते चले कुड्डालोर जिले की रहने वाली छात्रा बुधवार को हॉस्टल के परिसर में मृत पाई गई थी, जिसके बाद स्कूल पहुंचे छात्रा के परिवार के सदस्यों और रिश्तेदारों ने उसका शव लेने से इनकार कर दिया और छात्रा की मौत के पीछे साजिश होने का आरोप लगाया है और जांच की मांग की है, जिसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
वही छात्राकी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में बताया गया है कि उसकी मौत कई चोटों के कारण रक्तस्राव और सदमे से हुई है। शरीर पर सभी चोटों के निशान ताजा थे। हालांकि, अभी तक इस पर अंतिम बयान सुरक्षित रखा गया है। रासायनिक विश्लेषण की रिपोर्ट आने का इंतजार है।

बताते चले इस घटना के बाद परिवार के सदस्य, रिश्तेदार और स्थानीय लोग जांच की मांग को लेकर कई दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं कि आज रविवार को बड़ी संख्या में छात्रों और स्थानीय लोगों ने चिन्ना सलेम-कल्लाकुरिची रोड पर यातायात को रोक दिया, इसके बाद ये लोग कनियामूर स्थित प्राइवेट रेसिडेंशियल स्कूल की ओर बढ़ने लगे, पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो भीड़ ने बैरिकेड्स तोड़ दिए और उन पर पथराव शुरू कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!