August 17, 2022
ग्राम प्रधान ने कर डाला करोड़ों का घोटाला, DM ने बनाई जांच समिति

Village head made a scam of crores, DM formed inquiry committee

बांदा। जिले के ब्लाक बिसंडा अंतर्गत ग्राम कोर्रही में प्रधान निर्वाचित हुए प्रधान को 365 दिन भी नहीं हुए। लेकिन ग्राम प्रधान ने पांचवें स्टेट कमिशन, 15वें वित्त आयोग एवं मनरेगा द्वारा लगभग 1.35 करोड़ के निर्माण कार्य करा कर करोडों रुपए का घपला किया है। इस मामले में जिला अधिकारी अनुराग पटेल ने जांच के लिए दो सदस्यीय टीम गठित कर दी है और 15 दिन के अंदर जांच आख्या मांगी है।

इस मामले में अनीस अहमद खान पुत्र अब्दुल रईस खान निवासी ग्राम कोर्रही तहसील बबेरू ने जिला अधिकारी बांदा को शपथ पत्र देकर प्रधान अकरम खान के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने आरोप लगाया है कि ग्राम प्रधान ने महबूब को 1,18 338 और राकेश को 1,16838 का भुगतान करके क्रमश: 473 एवं 467 दिन की मजदूरी का भुगतान करके लूट और बोकस भुगतान का स्पष्ट प्रमाण दिया है।

नाला सफाई की मजदूरी में ग्राम सदस्य मुस्तफा को 10,875 एवं उसके पिता को 10,875 ग्राम सदस्य मुस्ताक को 10,875 एवं एक महिला को 10,875 का फर्जी भुगतान किया है। इसी तरह बिना फर्म के अपने चहेते सत्तार को सफाई कार्य की सामग्री खरीद पर 41,000 का भुगतान तथा इन्हें एवं अन्य चहेतों को 1,17700 रुपए का भुगतान नाली का कचरा ढोने के नाम किया है। ग्रामसभा कोर्रही में घटिया दर्जे की आधी अधूरी स्ट्रीट लाइट के नाम पर 7,21000 रुपए का भुगतान किया गया।

मनरेगा में पूर्व से बनी आरसीसी रोड रामप्रताप से सरफुद्दीन का लगभग 3,76,856 रुपए का भुगतान तथा इसी रोड से लगी नाली पर 15000 रुपए के स्थान पर 2,79000 रुपए का भुगतान प्रथम दृष्टया लोक धन की गई गंभीर वित्तीय अनियमितताओं का स्पष्ट प्रमाण है। अनीस अहमद खान के इस शिकायत पर जिला अधिकारी अनुराग पटेल ने जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी और सहायक अभियंता प्रांतीय खंड पीडब्ल्यूडी बांदा की दो सदस्यीय जांच टीम गठित की है। साथ ही जांच टीम को निर्देशित किया गया है कि शिकायतकर्ताओं एवं प्रधान की उपस्थिति में उनका पक्ष सुनते हुए दिन संयुक्त जांच प्रत्येक दशा में 15 दिन के अंदर उपलब्ध कराएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!