August 17, 2022
सिसवा रेलवे स्टेशन से हजारों की संख्या में शिव भक्त नेपाल के त्रिवेणी जल लेने के लिए हुए रवाना

सिसवा बाजार-महराजगंज। सिसवा बाजार रेलवे स्टेशन से आज सुबह शिव भक्त ( कांवरिया ) नेपाल के त्रिवेणी जल लेने के लिए रवाना हुए, इस दौरान सुबह से ही रेलवे स्टेशन पर शिव भक्तों ( कांवरिया ) की भारी भीड़ रही, हजारों की संख्या में शिव भक्त ( कांवरिया ) जयकारा लगाते हुए ट्रेन से रवाना हुए।

बताते चले हर साल की तरह आज शनिवार की सुबह से ही सिसवा बाजार रेलवे स्टेशन पर शिव भक्त ( कांवरिया ) एकत्र होने लगे, बड़े लोगों के साथ ही छोटे-छोटे बच्चे हो या फिर महिलाएं आज सुबह रेलवे स्टेशन पर पहुंच गये, पूरा रेलवे स्टेशन क्षेत्र भक्तिमय हो गया, चारो तरह सिर्फ शिव भक्त ( कांवरिया ) ही दिखाई दे रहे थे, और ट्रेन से यह सभी शिव भक्त ( कांवरिया ) बिहार के वाल्मिकी नगर के लिए रवाना हो गये, वहां से बस द्वारा नेपाल के त्रिवेणी पहुंचेंगे और रविवार की तड़के जल ले कर सिसवा के बगल स्थित बहुरहवा बाबा शिव मंदिर में सोमवार की सुबह जल चढ़ाएंगे।

त्रिवेणी से नंगे पांव पैदल ही पहुंचते है बहुरहवा बाबा शिव मंदिर
त्रिवेणी से सिसवा बाजार होते हुए बहुरहवा बाबा शिव मंदिर की दूरी लगभग 45 किमी है और हर साल हजारों की संख्या में इस क्षेत्र से शिव भक्त ( कांवरिया ) नेपाल के त्रिवेणी जाते हैं और रविवार की तड़के जल लेकर नंगे पांव पैदल ही रविवार की दोपहर से लेकर शाम तक सिसवा नगर मे पहुंचते हैं, और नगर में रात्रि विश्राम के बाद सोमवार की तड़के बहुरहवा बाबा शिव मंदिर पहुंच कर जल चढ़ाते है।

शिव भक्त नगर में करते है रात्रि विश्राम
त्रिवेणी से जल लेकर सिसवा में पहुंचने पर शिव भक्तों ( कांवरिया ) के लिए रात्रि विश्राम के लिए श्रीरामजानकी मंदिर, ईस्टेट चौक प्रा0 पाठशाला, संस्कृत पाठशाला व श्री शायर देवी स्थान पर व्यवस्था होती है और यहां रात्री विश्राम के दौरान भोजन के साथ ही शिव भक्तों को पैदल चलने से होने वाली परेशानियों के मद्देनजर गर्म पानी की व्यवस्था, पैर धूलने के साथ-साथ दवाओं की भी व्यवस्था रहती है।

पुलिस मुस्तैद
त्रिवेणी से जल लेकर आने के बाद सिसवा में रात्री विश्राम से लेकर सोमवार की सुबह बहुरहवा बाबा शिव मंदिर पर चल चढ़ाए जाने तक हर समय सुरक्षा से लेकर व्यवस्थाओं के लिए पुलिस मुस्तैद है, निचलौल एसडीएम, सीओ, थानाध्यक्ष कोठीभार व सिसवा पुलिस चौकी प्रभारी लगातार रास्तों से लेकर रात्री विश्राम स्थलों व बहुरहवा बाबा शिव मंदिर तक का दौरा कर रहे है कि कही व्यवस्थाओं में कोई कमी न रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!