October 3, 2022
पैदल हज यात्रा पर निकले शिहाब चितुर पहुंचे रूपनगढ

अजमेर। केरल से मक्का मदीना 8600 किलोमीटर की पैदल हज यात्रा पर निकले शिहाब चितुर राजस्थान में अजमेर होते हुए किशनगढ़ के रास्ते आज रुपनगढ़ पहुंचे। पैदल हज यात्रा का जुनून उनके मजबूत इरादों के साथ उन्हें भारत सहित चार देशों की यात्रा कराते हुए 2023 में मक्का मदीना तक पहुंचेंगे। पूरे रास्ते उनकी एक झलक पाने के लिए सैंकड़ों लोगों का हुजूम उमड़ रहा है। रुपनगढ़ में भी उनके लिए पुलिस के पुख्ता बंदोबस्त किए गए। थाना अधिकारी अय्यूब खान स्वयं मोर्चा संभाले है।

पैदल हज यात्री शिहाब चितुर अजमेर में दरगाह जियारत करने के बाद यहां से किशनगढ़-हनुमानगढ़ मेगा हाईवे होते हुए पंजाब की ओर जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि वे वाघा बॉर्डर के रास्ते पाकिस्तान में प्रवेश कर अपनी पैदल हज यात्रा को आगे बढ़ाएंगे।

उल्लेखनीय है कि शिहाब चितुर ने स्वाधीनता दिवस पंद्रह अगस्त की शाम अजमेर ख्वाजा साहब की दरगाह में जियारत कर अमन, चौन, खुशहाली के लिए दुआ की। इस दौरान भी दरगाह में उनकी एक झलक पाने के लिए जायरीन उमड़ पड़े।

हज यात्रा के दौरान उनकी खास पहचान यह है कि वे दोनों हाथों में सफेद ग्लव पहने हुए हैं। वे जिस ओर भी जा रहे हैं उन्हें देखने के लिए लोग उमड़ रहे हैं जिससे जगह जगह जाम के हालात भी बन रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!