November 27, 2022
पनीर के शौकीन हैं तो सतर्क हो जाएं, यहां पर सब ठीक नहीं!

बिना लाइसेंस चलता मिला पनीर प्लांट सीज, मुकदमा दर्ज
खाद्य सुरक्षा विभाग ने मारा पनीर प्लांट पर छापा
दुग्ध उत्पाद बनाने वाली इकाइयों पर लगातार कार्यवाही कर रहा है विभाग

मथुरा। दुग्ध उत्पाद बनाने वाली इकाइयों पर पर खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग लगातार कार्यवाही कर रहा है। लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ न हो इसके लिए विभाग सख्ती से काम कर रहा है। सहायक आयुक्त डॉ गौरी शंकर के नेतृत्व मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी एसपी तिवारी एवं खाद्य सुरक्षा अधिकारी की टीम ने शेरगढ़ बिसमबरा क्षेत्र में संचालित एसके डेयरी नाम से संचालित पनीर प्लांट का निरीक्षण किया गया संदेह होने पर पनीर एवं दूध का सैंपल संग्रहित किए, संचालक लाइसेंस नहीं दिखा सका, संचालक को प्लांट बंद करने के निर्देश दिए गए। बिना लाइसेंस पनीर प्लांट का संचालन करने के कारण संचालक के विरुद्ध मुकदमा दायर किया जाएगा। बिसम्भरा में ही संचालित जेके पनीर प्लांट का निरीक्षण करने के उपरांत पनीर का एक सैंपल जांच के लिए संग्रहित किया। साथ ही संचालक को स्वच्छ वातावरण में पनीर निर्माण के निर्देश दिए गए।

4000 लीटर दूध कराया नष्ट
खाद्य विभाग की टीम हुसैनी गांव पहुंची। जहां चंद्रपाल नामक व्यक्ति द्वारा पनीर प्लांट का संचालन मानकों को ताक पर रखकर किया जा रहा था। निरीक्षण करने के उपरांत लगभग 4000 लीटर दूषित दूध को नष्ट कराते हुए पनीर एवं दूध के दो सैंपल जांच के लिए संग्रहित किए गए।

संचालक को थमाया नोटिस
संबंधित को नोटिस दिया गया कि भविष्य में मानकों के अनुरूप है पनीर प्लांट का संचालन किया जाए। उपरोक्त पांचों नमूनों को जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा जा रहा है। कार्यवाही के दौरान टीम में एसएस निरंजन, मुकेश कुमार, भरत सिंह खाद्य सुरक्षा अधिकारी एवं ताराचंद धारियां खाद्य सहायक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!