November 27, 2022
9 अक्टूबर को अमन का परचम लेकर निकलेगा जुलूस ए मोहम्मदी: सैय्यद इरशाद अहमद

सभी जलूसओं की सरपरस्ती इमामबाड़ा स्टेट के सज्जादा नशीन अदनान फर्रुख शाह मियां साहब करेंगे

गोरखपुर। हर साल की तरह इस साल भी हजरत मोहम्मद साहब के यौमें पैदाइश जन्मदिवस पर जुलूस ए मोहम्मदी अमन का पैगाम लेकर विभिन्न इमाम बाडो मस्जिदो और दरगाहो से परंपरागत रूप से परंपरागत मार्गों से सुबह 6ः00 बजे से निकलना शुरू हो जाएगा सभी जलूसओ की सरपरस्ती इमामबाड़ा स्टेट के सज्जादा नशीन अदनान फर्रुख शाह मियां साहब करते हैं जिनकी देखरेख में सभी जुलूसो के मुतवाल्लि अपने अपने जलूसो की अगुवाई करते हैं।
मुस्लिम समाज मे जुलूस ए मोहम्मदी उठाने जाने की लेकर काफी उत्साह है इमामबाड़ा मुतवल्लियान कमेटी शांति की हिमायती है तथा जिला प्रशासन का सहयोग करती रहती है उक्त विचार इमामबाड़ा मुतवल्लियान कमेटी के जिला अध्यक्ष सैयद इरशाद अहमद ने जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में दी उन्होंने कहा कि हजरत मोहम्मद साहब की योमे पैदाइश में सारी दुनिया को अंधेरे से उजाले की ओर चलने की हिदायत दी है इस्लाम धर्म के प्रवर्तक मोहम्मद साहब ने प्यार मोहब्बत का पैगाम पूरी दुनिया को दिया उनकी पैदाइश सिर्फ मुसलमानों के लिए नहीं हुई वह सारे आलम के लिए दुनिया में भेजे गए उनका जन्म दिवस पर पूरे दुनिया के मनाया जा रहा है।

इस अवसर पर जिला प्रशासन व नगर निगम प्रशासन के यह अपील है कि जुलूस मार्गाे का निरीक्षण तत्काल कर के उस रोड की समसया को तत्काल ठीक करा दिया जाए जलभराव वाले इलाकों की वैकल्पिक व्यवस्था समय से पूर्व करा दिया जाए ताकि जलूस उठाने में कोई परेशानी ना हो जिसकी लिखित सूचना जिला प्रशासन नगर निगम प्रशासन को पहले एक ज्ञापन में माध्यम से दिया जा चुका है सुरक्षा की दृष्टि से जुलूस में पुलिस की समुचित व्यवस्था किया जाए।
इमामबाड़ा मुतवल्लिआन कमेटी के महासचिव हाजी सोहराब खान ने कहा कि 9 अक्टूबर मोहम्मद साहब की यौमे पैदाइश पर महानगर के मियां बाजार पुरब फाटक, असगर गंज ,जाफरा बाजार कसाई टोला घासी कटरा रहमत नगर बेनीगंज पुराना गोरखपुर इलाहीबाग अहमदनगर चकसा हुसैन बक्शीपुर इस्माइलपुर सूरजकुंड बलरामपुर पिपरा पुर अंधियारी बाघ हजारीपुर गोलघर चिल्मापुर गेहूं सागर बड़वा तुर्कमानपुर बुलाकीपुर अजय नगर रसूलपुर घोसीपुरवा पादरी बाजार दरगाह मुबारक खान शहीद दरगाह मिस्कीन शाह सहित अधिकांश मोहल्लों से जुलूस अपने परंपरागत मार्गाे से निकलेगा यह जुलूस अमन का संदेश देने वाला जुलूस है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!