November 27, 2022
सेंट जेवियर्स स्कूल में बच्चों ने दिपावली पर बड़े ही धूम-धाम से दीप-महोत्सव का किया आगाज, आकर्षक का केन्द्र बना रंगोली कंपीटिशन

सिसवा बाजार-महराजगंज। नगर स्थित सेंट जेवियर्स स्कूल में बच्चों ने दिपावली के पावन पर्व पर दीप-महोत्सव का आगाज बड़े ही धूम-धाम से किया। बच्चों ने स्वनिर्मित दीप, मोमबत्ती ग्रिटिंग कार्ड, आदि बनाकर यह साबित कर दिया कि आज भी हमारे भारतीय संस्कृति की परंपरा दीलों में जीवंत है। परंम्पराएं धर्म, जाति, मजहब से नही होती बल्कि एकता और अखंडता को कायम करने के लिए होती है। सबसे ज्यादा आकर्षक का केन्द्र बना रंगोली कंपीटिशन जिसमें बच्चों ने जी जान झोंक कर एक ऐसी आकृति बनाया जो समाज के लिए एक संदेश के रूप में जाता है जो इंटरनेट की दुनिया से संबंधित है जिसमें एक बच्चा अपने आपको मोबाइल के सुपुर्द कर देता है वह अपना सारा समय मोबाइल के साथ ही व्यतीत करता है। यह संदेश समाज के साथ- साथ उन बच्चों के लिए भी है जो बच्चे इसका सदुपयोग के बजाय दुरूपयोग कर रहे हैं।

क्या आज से पहले सर्वांगीण शिक्षा प्रणाली नहीं थी, थी किन्तु बच्चे न तो समय व्यर्थ न ही अपने आपको किताबों से दूर रखते थे किन्तु आज का माहौल बिल्कुल बदल गया है और बच्चे मोबाइल में लिप्त होकर इंटरनेट की दुनिया में समर्पित होकर अपना ज्ञान भुलते जा रहे है।
विद्यालय प्रबंधक मिठ एण्ड मिसेज चंद्रा ने बच्चों की अनुपम कलाकृति पर आत्मविभोर होते हुए सभी को उज्ज्वल भविष्य की कामना व ढेरों सारी दिए। विद्यालय प्रबंधक ने कहा कि त्योहार हमारी विरासत की नींव है इसे दील से मिलजुल कर मनाना चाहिए इससे हमारी एकता मजबूत होती है।

रंगोली कंपीटिशन में प्रतिभागी हुए बच्चे-प्रियांशी, अमृता, आदर्श आरुषि, अमन कुमार व हर्ष कक्षा आठ-से संध्या, साधना नैना, अनुराग, आदि। आरुषि, नायला नाज, पियूष । कक्षा-सात से इफा, सर्वज्ञ। कक्षा-छरू से आफिया, आकाश, निधी, आकांक्षा ने पूरजोर मेहनत कर रंगोली को सफल बनाया। दीया कंपीटिशन में कक्षा नर्सरी से कक्षा आठ तक – अनुपम शुभम, रूप, अर्पिता, सृष्टि, अंशिका, प्रतीक, यश, अकदस दिव्यांशी, अनोरवी, दिव्या, रिदिमा, आशिया, खेता, आकांक्षा मोहन, निधि, अनन्या, रितिक, सना, कैकशा, रिया, शिवम आकांक्षा, ऐंजल, राहुल, अनन्या, अंजू, प्रिया, गुलशन, अपनी जोया, सर्वेश, संध्या, साधना, आय, वंदना, चंचल, अयान आदि । सभी बच्चों को उनके उत्कृष्ट कलाकृति पर प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!