January 27, 2023
गर्लफ्रेंड के धोखे ने इंजीनियर को बनाया ड्रग तस्कर

इंदौर। संयोगितागंज पुलिस ने प्रतापगढ़ (राजस्थान) के जिस तस्कर को पकड़ा है उसने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। ड्रग पैडलर्स की उसकी गैंग में इंजीनियर, तांत्रिक भी शामिल हैं। उसने दस से ज्यादा ऐसे पैडलर्स के नाम बताए हैं जो आसपास के शहरों में ड्रग सप्लाय करते हैं।

पुलिस के मुताबिक यह गैंग नशे की टैबलेट से एक ग्राम ब्राउन शुगर को 20 ग्राम के बराबर बना देती थी। टीआई तहजीब काजी की टीम ने सबसे पहले आसिफ मामा नाम के तांत्रिक को पकड़ा। वह आजाद नगर में सेंट्रल जेल के पास रहता है। आसिफ झाड़ फूंक करने के बहाने लोगों को नशे का आदि बनाता है। उसके यहां नशा करने वाले कम उम्र के लड़के भी बैठते थे। उसने पूछताछ में शशांक और सुनील का नाम बताया और कहा कि वे ही माल सप्लाय करते हैं। आसिफ की सूचना पर पुलिस ने शशांक को उठाया।

शशांक ने बताया कि वह पेशे से इंजीनियर है। उसके इस काम में उसका दोस्त सुनील भी साथ है। दोनों ने मिलकर कई ठिकाने बनाए थे, जहां वे ड्रग्स सप्लाय करते थे। तस्करी करते पुलिस ने शशांक उर्फ निक्की को पकड़ा था। शशांक पेशे से इंजीनियर है। शशांक अपने दोस्त सुनील पुत्र घासीराम कलाम के साथ मिलकर ड्रग्स सप्लाय करता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!