February 6, 2023
गश्त के दौरान कुत्ते ने थाना प्रभारी पर किया हमला, चबा डाला अंगुली, छह घंटे चला आपरेशन

बिजनौर। बिजनौर के जलालाबाद में गश्त के दौरान मंगलवार को खूंखार कुत्ते ने थाना प्रभारी निरीक्षक राधेश्याम पर हमला कर दिया था। खूंखार कुत्ते ने उनका एक हाथ बुरी तरह चबा डाला था। एक अंगुली काट दी थी। रक्षापुरम स्थित अपसनोवा मल्टी स्पेशियलिटी हास्पिटल व ट्रामा सेंटर में उनकी अगुंली को प्लास्टिक सर्जरी करके जोड़ दिया गया। इस आपरेशन में चिकित्सकों को छह घंटे लगे। आपरेशन कामयाब रहा।

मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार शाम करीब 6ः30 बजे प्रभारी निरीक्षक राधेश्याम सरकारी वाहन से पुलिस कर्मियों के साथ जलालाबाद क्षेत्र में पहुंचे, तो उनके वाहन के नजदीक ही बाइक से गुजर रहा एक राहगीर सड़क पर आवारा कुत्ते से टकरा गया। आवारा कुत्ता बाइक चालक पर हमलावर हो गया। उसे कुत्ते से बचाने के लिए प्रभारी निरीक्षक वाहन से नीचे उतर आए और कुत्ते को खदेडऩे की कोशिश की।
इसी बीच आवारा कुत्ता प्रभारी निरीक्षक पर ही हमलावर हो गया। कुत्ते ने प्रभारी निरीक्षक का हाथ अपने जबड़े में जकड़ लिया। अगले ही पल पुलिसकर्मी और आसपास मौजूद लोग कुत्ते को खदेडऩे में लग गए, लेकिन करीब एक से डेढ़ मिनट तक कुत्ते ने प्रभारी निरीक्षक का हाथ नहीं छोड़ा। एक अंगुली खा गया और हाथ को बुरी तरह घायल कर दिया। काफी जद्दोजहद के बाद कुत्ते को खदेड़ा गया और प्रभारी निरीक्षक की जान बची। निरीक्षक अपराध अर्जुन सिंह ने बताया कि लहूलुहान प्रभारी निरीक्षक को आनन-फानन में जिला अस्पताल ले जाया गया। हाथ की हालत काफी खराब हो जाने के कारण उन्हें प्लास्टिक सर्जरी के लिए मेरठ ले जाया गया था।

अपसनोवा अस्पताल के प्लास्टिक सर्जन डा. भानु प्रताप सिंह ने बताया कि कुत्ते ने इंडेक्स अंगुली को पूरी तरह से काट लिया था। मंगलवार रात 10 बजे से आपरेशन शुरू हुआ था जो सुबह चार बजे तक चला। अगले चार से पांच दिन मरीज के लिए क्रिटिकल हैं। पूरी अंगुली का आपरेशन हुआ। अंगुली पूर्व की तरह सामान्य रूप से भविष्य में काम करे। ऐसा प्रयास किया गया है।
अंगुली को प्लास्टिक सर्जरी दी गई। खून की नसें उखड़ गईं थीं। अंगुलियों में खून सप्लाई भी नहीं थी। सर्जरी नहीं होती तो अंगुली काली पड़ जाती। उसे काटना भी पड़ सकता था। इस आपरेशन में प्लास्टिक सर्जन डा. अमित व एनेस्थेटिस्ट डा. रजत शर्मा मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!