February 6, 2023
पैग़ंबर-ए-आज़म की सुन्नतों पर चलकर गुजारें ज़िदंगीः कमरुज्जमा

गोरखपुर। अंजुमन ज्याए मुस्तफा नौजवान कमेटी की ओर से ग़ौसे आज़म हज़रत सैयदना शैख़ अब्दुल क़ादिर जीलानी अलैहिर्रहमां की याद में जमुनहिया बाग चक्शा हुसैन में जलसा-ए-ग़ौसुलवरा हुआ। आगाज़ क़ुरआन-ए-पाक की तिलावत से हुआ। नात व मनकबत पेश की गई।

मुख्य वक्ता मौलाना कमरुज्जमा ने कहा कि दीन का इल्म हासिल कर दीन-ए-इस्लाम के साथ रिश्ता मजबूत किया जाए। दीनी तालीम हासिल करने पर जोर दें। दुनियावी तालीम भी हासिल करें। हलाल कमाई से खुद की और बच्चों की परवरिश करें। हालात से मायूस होने के बजाय जरूरी है कि उसे बदला जाए। ये तभी संभव है जब मुस्लिम कौम के नौज़वान आगे आएं और अपने किरदार को बदलें। मुसलमानों को चाहिए कि वह अपनी ज़िंदगी पैग़ंबर-ए-आज़म हज़रत मोहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की सुन्नतों पर चलकर गुजारें।

अंत में सलातो सलाम पढ़कर मुल्क में अमन, शांति व भाईचारे की दुआ मांगी गई। जलसे में मुनाजिर हसन, मौलाना गुलाम हुसैन, मौलाना अनवार अहमद, हाफिज आरिफ, मौलाना जुल्करनैन, मौलाना निजामुद्दीन, शमीमुल क़ादरी, नसीम कादरी, अमीन अहमद, इमरान अहमद, नासिर अली, जाबिर अली, शोएब अहमद आदि ने शिरकत की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!