December 9, 2022
हिंदू मुस्लिम एकता कमेटी एवं इमामबाड़ा मुतवल्लियान कमेटी ने DM को सौंपा मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन

सेराज अहमद कुरैशी
गोरखपुर। हिंदू मुस्लिम एकता कमेटी एवं इमामबाड़ा मुतवल्लियान कमेटी ने मुख्यमंत्री के नाम संबोधित एक ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा गया।
हिंदू मुस्लिम एकता कमेटी अध्यक्ष शाकिर अली सलमानी ने मांग किया है कि जिस तरह से कबीर स्थल को पर्यटन स्थल के तौर पर सुंदरीकरण और विकसित किया जा रहा है और भी धार्मिक स्थलों के लिए धन आवंटित हो रहे हैं मिसाल के तौर पर इस समय चित्रगुप्त मंदिर गोरखपुर कालीबाड़ी मंदिर गुरुद्वारा जटाशंकर विश्वकर्मा मंदिर सुंदरीकरण के लिए धन आवंटित हो रहा है वैसे ही उसी तर्ज पर अगर जो इमामबाड़ा स्टेट जो गोरखपुर की राष्ट्रीय धरोहर कहलाती है इसे भी अगर जो पर्यटन स्थल घोषित करके सुंदरीकरण के लिए धन आवंटित किया जाए तो गंगा जमुनी संस्कृति का वाहक इमामबाड़ा शांति का संदेश देने वाला सूफी संत रोशन अली शाह बाबा की कर्मभूमि आज 300 साल हो गए इसे भी गवर्नमेंट की मदद की जरूरत है हमें उम्मीद है कि योगी जी जरूर सुनेंगे।

सैयद इरशाद अहमद इमामबाड़ा मुतवल्लियान कमेटी अध्यक्ष ने कहा कि जिस तरह से और धार्मिक स्थलों के लिए पर्यटन स्थल के तौर पर विकसित करने के लिए हुकूमत काम कर रही है अगर जो इमामबाड़े को पर्यटन स्थल घोषित करती है इसको फंड देती है और गोरखपुर के अंदर इमामबाड़ा को भी सैलानियों के आने का सिलसिला जारी होता है तो जो नारा लग रहा है सबका साथ सबका विकास वह चरितार्थ होगा।
गौतम लाल श्रीवास्तव राष्ट्रीय लोकतांत्रिक जनता दल के प्रदेश उपाध्यक्ष ने कहा कि हम लोग गवर्नर से भी मिलेंग,े इमामबाड़ा स्टेट को पर्यटन स्थल घोषित कराने के लिए क्योंकि इमामबाड़ा किसी एक धर्म विशेष का नहीं यह गोरखपुर की धरोहर है हमारा इतिहास है हमारे गंगा जमुनी संस्कृति का वाहक है हम लोग पुरखो से इमामबाड़े से जुड़े हुए हैं तो मुख्यमंत्री से आशा करते हैं कि और धर्म स्थलों को जिस तरह से विकसित कर रहे हैं पर्यटन स्थल बना रहे हैं इस कड़ी में गोरखपुर में इमामबाड़ा स्टेट छूटे ना उनके सामने बात रखी जाएगी मुलाकात किया जाएगा।

हाजी सोहराब खान इमामबाड़ा मुतवल्लियान कमेटी के महासचिव ने कहा कि योगी आदित्यनाथ से आशा रखते हैं हम लोग कि वह इमामबाड़ा स्टेट को धार्मिक तौर से और आध्यात्मिक तौर से पर्यटन स्थल घोषित भी करेंगे धन भी आवंटित करेंगे क्योंकि उत्तर प्रदेश में जिस तरह से उन्होंने पर्यटन को बढ़ावा दिया है उसी कड़ी में इमामबाड़े की भी जरूरत है और हम आशा करते हैं हम लोग इसमें कामयाब होंगे हमारी बात सुनी जाएगी मुख्यमंत्री किसी एक धर्म जाति विशेष का नहीं होता वह सबका होता है।

इस मौके पर मुख्य रूप से गौतम लाल श्रीवास्तव ,योगेंद्र कुमार गौड़ एडवोकेट, अब्दुल रज्जाक आसामी ,सलमान अली सलमानी, गुलाम अली खान ,समीर सलमानी ,डा. शकील अहमद, आफताब अहमद आदि उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!