November 27, 2022
दुआ, लंगर व पैग़ाम के साथ उर्स-ए-पाक का समापन

गोरखपुर। बिछिया रामलीला मैदान पीएसी कैम्प स्थित दरगाह पर बाबा हज़रत मुस्तफा अकबर शाह रहमतुल्लाह अलैह का उर्स-ए-पाक मुल्क में अमनो अमान व भाईचारे की दुआ के साथ संपन्न हुआ। सुबह हिन्दू-मुस्लिम एकता के प्रतीक बाबा के मजार का गुस्ल हुआ। क़ुरआन ख़्वानी हुई। अकीदतमंदों ने पारंपरिक रूप से चादरपोशी की। फातिहा ख़्वानी व कुल शरीफ की रस्म अदा कर की। अकीदतमंदों में लंगर बांटा गया।

दरगाह पर मौजूद उलमा किराम ने कहा कि पैग़ंबरे इस्लाम हज़रत मोहम्मद सल्लल्लाहो अलैहि वसल्लम ने अमन, शांति, मोहब्बत और इत्तेहाद का पैग़ाम दिया। मुसलमान पैग़ंबरे इस्लाम की तालीम पर पूरी तरह से अमल करें। बुरे कामों से बचें। नमाज, रोजा, हज और जकात अदा करें। औलिया किराम ने पूरी ज़िंदगी क़ुरआन व हदीस पर गुजार कर अपनी दुनिया व आखिरत दोनों कामयाब बना ली। हमें भी उनके नक्शेकदम पर चलना होगा। झूठ और गीबत से सख्ती के साथ बचें। अपने बच्चों को दीनी व दुनियावी तालीम जरूर दिलाएं।

उर्स में मो. रज्जब अली, मो. मुस्लिम ‘राज’, अरमान अली, मो. इस्राइल, राजन, महबूब आलम, नजीबुल्लाह, मो. जावेद, आबिद अली, मनोज कुमार, सुदीष कुमार, अहमद अली, मो. याकूब, साबिर अली, सलमान, वसीम, अख्तर आलम, अब्बास अली ताजुद्दीन अहमद, गुलाम अली, सहित तमाम अकीदतमंद मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!