January 27, 2023
फिर बढ़ा कोरोना का खतराः कोविड नियमों का पालन कराने के लिए रणनीति बनाना शुरू, एम्स में बुलाई बड़ी बैठक

नई दिल्ली। कोरोना ने दुनिया भर में एक बार फिर अपना कहर दिखाना शुरू कर दिया है। खासकर चीन में यह अपना रौद्र रूप धारण कर चुका है। कोरोना की चपेट में आने वाले मरीजों की बड़ी संख्या में मौत हो रही है। ऐसे में अब भारत ने इससे निपटने के लिए अभी से पूरी सख्ती बरतने और सभी कोविड नियमों का पालन कराने के लिए रणनीति बनाना शुरू कर दिया है।

The danger of corona increased again: Strategy started to follow Kovid rules, big meeting called in AIIMS

भारत सरकार सबसे पहले कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर बड़ा फैसला लेने जा रही है। बताया जा रहा है कि आज बुधवार दोपहर दो बजे देशभर में कोरोना टीकाकरण के अभियान को लेकर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में बड़ी बैठक होने जा रही है। इसकी अध्यक्षता नीति आयोग के सदस्य डॉ. वी के पॉल करेंगे।
सूत्रों के मुताबिक भारत सरकार एक बार फिर देशभर में कोरोना वैक्सीनेशन के अभियान को और तेजी के साथ शुरू करने की रणनीति तैयार कर रही है। वर्तमान में कोरोना वैक्सीन की पहली, दूसरी और तीसरी यानी बूस्टर डोज लगाने का काम किया जा रहा है। 15 साल तक के बच्चों को भी कोरोना वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज दी जा रही है। इससे जुड़े अभियान को लेकर खास चर्चा की जा सकती है।

बताते चलें कि चीन में जहां कोरोना हाहाकार मचाए हुए है। वहीं दुनिया के खासकर एशिया, यूरोप समेत कई देशों में कोरोना के मामले तेजी के साथ बढ़ रहे हैं। कोरोना के वैश्विक मामलों में बड़ा उछाल रिकॉर्ड किया जा रहा है। गत 18 दिसंबर को कोरोना के आंकड़े यानी डेढ़ माह के भीतर 55 फीसदी उछाल मारे हैं। यह आंकड़ा अब 3.3 लाख से बढ़कर 5.1 लाख पहुंच गया है जोकि आने वाले समय में दुनिया के लिए बेहद ही चिंताजनक बन सकता है।

एम्स में टीकाकरण को लेकर बुलाई गई बड़ी बैठक भी कोविड के बढ़ते नए मामले को लेकर अहम मानी जा रही है। अब तक देशभर में कुल 2,20,01,45,981 लोगों को कोरोना वैक्सीन की डोज दी जा चुकी हैं। वहीं पिछले 24 घंटे के भीतर देश में कोरोना संक्रमित मामलों की संख्या 3408 (0.01प्रतिशत) रिकॉर्ड की गई है। अब तक संक्रमित मरीजों में से 44142242 (98.80प्रतिशत) ठीक हो चुके हैं और 530680 (1.19प्रतिशत) मरीजों की जान चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!