home page

भाभी के प्यार में पागल था देवर, पत्नी ने विरोध किया तो जिंदा दफनाने लगा, आ गये कुछ बच्चे फिर...

 | 
भाभी के प्यार में पागल था देवर, पत्नी ने विरोध किया तो जिंदा दफनाने लगा, आ गये कुछ बच्चे फिर...

जमशेदपुर। झारखंड के कोडरमा जिले के जयनगर थाना क्षेत्र की चंद्रपुर निवासी एक महिला को अपने पति व उसकी भाभी के बीच चल रहे अवैध संबंधों का विरोध करना महंगा पड़ गया. आरोप है कि पति व उसकी भाभी ने महिला को न केवल मारपीट कर बुरी तरह से घायल कर दिया, बल्कि उसे मरा हुआ समझकर गांव के एक गढ्ढे में जिंदा दफनाने का प्रयास किय।
        हालांकि, ऐन मौके पर गांव के कुछ बच्चों के द्वारा देखे जाने व कुत्तों के शोर मचाने पर आरोपी आनन-फानन में भाग निकले. बाद में उस महिला को गढ्ढे से निकालकर इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. होश में आने के बाद उसने पुलिस के समक्ष पूरी घटना का खुलासा किया।
   

 इस संबंध में पीड़ित महिला गुडिय़ा देवी (पति सकलदेव यादव) ने पुलिस अधीक्षक को एक आवेदन देकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है. आवेदन में गुडिय़ा ने कहा है कि वह एक गरीब महिला है और उसका पति सात वर्षों से उससे अलग रह रहा है. छह जनवरी को दोपहर 12 बजे वह पीडीएस दुकान से राशन लाने गई थी. इसी दौरान पूर्व से घात लगाकर बैठे उसके पति सकलदेव यादव (35 वर्षीय), उसकी गोतनी सरिता देवी (पति केदार यादव) ने जान मारने की नीयत से उसके सिर पर लोहे की रॉड से लगातार कई बार वार किया. आरोपी तब तक वार करता रहा, जब तक वह बेहोश नहीं हो गई. इसके बाद रस्सी से गला दबाने लगे, जिसके कारण उसका दम घुटने लगा. लात घूंसा से भी काफी वार किया गया. बेहोशी के दौरान उसे मरा हुआ समझ कर सकलदेव यादव व सरिता देवी ने उसे बगल के एक गढ्ढा में ले जाकर फेंक दिया और मिट्टी डालकर जिंदा दफनाने का प्रयास किया. उसी समय कुछ बच्चे वहां पहुंच गए और माजरा देखकर गांव में जाकर शोर मचाया. शोर सुनकर गांव वाले वहां पहुंचे. राशन दुकानदार ने मेरे जीजा व बहन को फोन पर सूचना दी. सूचना पाकर जीजा राजकुमार यादव, बहन मुंद्रिका देवी वहां पहुंचे और आनन फानन में उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया. पीड़िता ने यह भी कहा है कि इलाज के दौरान जयनगर थाना प्रभारी को सूचना दी गई. वे पुलिस कर्मियों के साथ अस्पताल पहुंचे और मेरा बयान भी लिया. बावजूद इसके थाना प्रभारी के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई और न ही आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. उसका पति के साथ न्यायालय में मुकदमा भी चल रहा है. उसके पति व सरिता देवी के बीच अवैध संबंध है. इस कारण कई बार उसे जान से मारने का प्रयास भी किया गया है. पीड़िता ने आरोपियों को अविलंब गिरफ्तार करने की मांग की है.