home page
up abtk

नहाय खाय के साथ शुरू होगा आस्था का महापर्व छठ

 | 
नहाय खाय के साथ शुरू होगा आस्था का महापर्व छठ

  आस्था व सूर्याेपासना का छठ महापर्व सोमवार से नहाय-खाय के साथ आरंभ हो जाएगा। चार दिनी पर्व की शुरुआत कार्तिक शुक्लपक्ष चतुर्थी तिथि से आरंभ होती है। दूसरे दिन पंचमी तिथि नौ नवंबर को संध्या में खरना अनुष्ठान होगा। सूर्य देव छठी मैया की पूजा होगी। व्रती अगले 36 घंटे के व्रत का संकल्प लेंगे। व्रत निर्विघ्न पूरा होने की कामना की जाएगी। खरना अनुष्ठान में प्रसाद के रूप में खीर व अन्य पकवान का भोग लगाया जाएगा। प्रसाद ग्रहण करने के साथ व्रतियों का 36 घंटे का निर्जला व्रत आरंभ होगा। षष्ठी तिथि 10 नवंबर को अस्ताचलगामी (डूबते ) सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा।
        वहीं, सप्तमी तिथि 11 नवंबर को उदीयमान (उगते) सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही चार दिवसीय पर्व संपन्न होगा। श्रद्धालु सूर्याेपासना की तैयारी में जुट गए हैं। घरों में प्रसाद के लिए गेहूं, चावल आदि इक-ा किए जा रहे हैं। शहर के विभिन्न चौक-चौराहों पर छठ पूजा सामग्री मिल रही है। पिछले साल कोविड के कारण लोगों ने घरों में रहकर ही आस्था का महापर्व मनाया था, इस बार कोविड संक्रमण के प्रसार की रफ्तार धीमी होने के बाद महापर्व को लेकर लोगों में उत्साह है।