home page
up abtk

देश में त्यौहारों पर कोरोना दिखा सकता अपना रुद्र रूप, 24 घंटे में 22,431 नए मामले, 318 लोगों की मौत

 | 
देश में त्यौहारों पर कोरोना दिखा सकता अपना रुद्र रूप, 24 घंटे में 22,431 नए मामले, 318 लोगों की मौत

नई दिल्ली। देश में त्यौहारों पर कोरोना अपना रुद्र रूप दिखा सकता है, जिसके लिए पहले से ही सरकार सतर्कता बरतने की अपील करती आ रही है। उतार चढ़ाव के बीच नवरात्रि के पहले दिन ही कोरोना ने फिर चिंता बढ़ा दी, जब पिछले तीन दिनों से 20 हजार से कम आ रहे दैनिक मामलों में छलांग लगा दी। मसलन पिछले 24 घंटे में 22,431 सामने आए हैं। जबकि इस दौरान संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा भी तीन सौ से पार दर्ज किया गया।
       केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के गुरुवार को जारी आंकड़ो के अनुसार पिछले एक दिन में दर्ज किये गये 22,431 नए कोरोना मामलो के बाद देश में अब तक संक्रमित हुए कुल लोगों की संख्या बढ़कर 3.38 करोड़ से ज्यादा हो गई है। जबकि पिछले 24 घंटे में 318 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है, जिसके बाद देश में अब तक कोरोना संक्रमण के कारण 4.49 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि पिछले एक दिन में 24,602 मरीजों को कोरोना से ठीक होने पर अस्पतालों से छुट्टी भी दी गई है। इस प्रकार देश में अब तक 3.32 करोड़ से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण को मात देकर ठीक हो चुके हैं, जिसके बाद देश में रिकवरी दर बढ़कर 97.95 प्रतिशत हो गई। दूसरी ओर उपचाराधीन मरीजों में तेजी से कमी आ रही है और अब देश में 2,44,198 यानि 0.72 फीसदी सक्रीय मरीज रह गये हैं। कोरोना महामारी की साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर पिछले सप्ताह घटकर 1.68 पर आ गई, जो इससे पहले 5.86 फीसदी थी।
       इधर केरल में कोरोना के दैनिक मामलों में  कमी नहीं देखी जा रही है। केरल में नए संक्रमितों के मिलने का सिलसिला जारी है। बीते एक दिन में कोरोना के कुल मामलों में से 12 हजार 616 केस अकेले केरल के हैं और वहीं राज्य में कोरोना से 134 मौतें भी हुई हैं। पिछले सप्ताह कोरोना के 56 फीसदी नए मामले केरल से दर्ज़ किए गए हैं। देश के पांच राज्यों- केरल, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, मिजोरम व कर्नाटक में 10 हजार से ज्यादा सक्रिय केस हैं। पांच राज्य ऐसे हैं जहां अभी भी 10,000 से ज़्यादा सक्रिय मामले बने हुए हैं। केरल में 1,22,000 के करीब सक्रिय मामले हैं। महाराष्ट्र में 36,000 के करीब सक्रिय मामले हैं। तमिलनाडु, मिजोरम और कर्नाटक में भी सक्रिय मामले अधिक संख्या में हैं। हालांकि आंध्र प्रदेश, तेंलगाना, महाराष्ट्र समेत कई अन्य राज्यों में संक्रमण के मामले पहले से काफी कम हुए हैं। मुंबई समेत पूरे महाराष्ट्र में आज से धार्मिक स्थलों को खोल दिया गया है।
       स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार अरूणाचल प्रदेश व असम के कुछ जिलों समेत देश के 28 जिले ऐसे हैं, जहां पॉजिटिविटी दर पांच से दस फीसदी है। यह उच्च संक्रमण दर है। 34 जिलों में तो साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 10 फीसदी से भी ज्यादा है। लक्षद्वीप, चंडीगढ़, गोवा, हिमाचल प्रदेश, अंडमान निकोबार व सिक्किम में 100 फीसदी आबादी को कोरोना वैक्सीन का पहला डोल लग गया है।
        केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि बुधवार तक देश में कोविड-19 रोधी टीकों की 92.63 करोड़ से ज्यादा खुराकें दी गईं। मंत्रालय के अनुसार सिर्फ बुधवार को रात साढ़े आठ बजे तक 40 लाख से अधिक खुराकें दी गईं। मंत्रालय ने कहा कि टीकाकरण की अंतिम रिपोर्ट देर रात तक आएगी, लिहाजा दैनिक टीकाकरण संख्या बढऩे की संभावना है।
        केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने गुरुवार को कहा कि कोविड की चुनौती अब भी खत्म नहीं हुई है। कुछ हद तक हम कह सकते हैं कि हम दूसरी लहर को काबू में नहीं कर सके हैं। हमें लगातार प्रयास करना होंगे। हम अभी यह ना समझें की कोविड खत्म हो चुका है। हमारे सामने कोविड की कई सारी चुनौतियां हैं और हमें उस पर काम करने की जरूरत है। हमें अभी भी कोविड व्यवहार को बनाए रखना है।