home page
up abtk

अबकी बुंदेली धरती पर लहराएगा अपना दल का परचम: अनुप्रिया

बांदा। अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल...
 | 

बांदा। अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने शनिवार को बुंदेलखंड की धरती से अपना चुनावी अभियान का शुरू किया। श्रीमती पटेल ने बुंदेलखंड के महापुरुषों एवं योद्धाओं को नमन करते हुए आगामी विधानसभा चुनाव के लिए पूरी तरह से कमर कस कर उतरने का आह्वान किया। आवाहन किया कि हमें बुंदेलखंड की धरती पर भी अपना दल (एस) का खाता खोलना है। यहां भी नीला-केसरिया झंडा लहराएगा। 

श्रीमती पटेल ने कहा कि यह चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ा जाएगा। हम सभी को इस पर मंथन करने की जरूरत है। आप हर चैक-चैपाल पर प्रधानमंत्री मोदी व मुख्यमंत्री योगी द्वारा शुरू किए गए विकास कार्यों पर चर्चा करने की जरूरत है। हमें इस पर भी मंथन करना है कि पूर्ववर्ती सरकारों ने आपको क्या दिया और आज केंद्र की एनडीए व प्रदेश की भाजपा व अपना दल एस की सरकार आप सभी को क्या दे रही है। पिछले पांच वर्ष में आपको क्या मिला और क्या मिलने वाला है। इस पर फोकस करने की जरूरत है। युवा सोच व दूरदर्शी प्रधानमंत्री मोदी ने बुंदेलखंड की धरती पर विकास एवं यहां के युवाओं को यहीं पर रोजगार उपलब्ध कराने के लिए सतत चिंतित रहते हैं। बुंदेलखंड में विकास के लिए यहां पर डिफेंस कारिडोर विकासित हो रहा है। रोजगार एवं आवागमन को तेज गति देने के लिए बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का निर्माण किया जा रहा है। इन मेगा परियोजनाओं के मूर्तरूप लेने से बुंदेलखंड में रोजगार की नई संभावनाओं का पदार्पण होगा। प्रदेश में हवाई अड्डा का जाल बुना जा रहा है। बुंदेलखंड में जल संकट को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री ने यहां पर हर घर नल के जरिए पेयजल उपलब्ध कराने की परियोजना शुरू की है। आशा है कि यह परियोजना जल्द ही पूर्ण हो जाएगी। इस परियोजना के पूरा होने से बुंदेलखंड की सबसे बड़ी समस्या का निदान होगा। पानी के अभाव में यहां से पलायन की समस्या पर रोक लगेगी। श्रीमती पटेल ने कहा कि पार्टी के संस्थापक डा. सोनेलाल पटेल के विचारों को आत्मसात करने वाली पार्टी अपना दल (एस) निरंतर कमेरों, वंचितों, पिछड़ों, आदिवासी भाइयों के हक-हुकूक के लिए संघर्ष कर रही है। अपना दल (एस) के संघर्ष का ही नतीजा है कि आज सैनिक व केंद्रीय स्कूलों में प्रवेश के लिए पिछड़ा वर्ग के छात्रों को 27 परसेंट आरक्षण मिलना शुरू हुआ है। केंद्रीय मंत्री श्री पटेल ने कहा कि हम 69 हजार शिक्षक भर्ती में बरती गई अनियमितता मामले में पिछले 4 महीने से ज्यादा समय से धरना दे रहे। अन्य पिछड़ा वर्ग व दलित भाइयों को आश्वासन देती हूं कि उन्हें न्याय जरूर मिलेगा। हम इसके लिए निरंतर आवाज उठा रहे हैं। पिछड़ों के विकास के लिए हमारी पार्टी अल्पसंख्यक मंत्रालय की तर्ज पर ओबीसी मंत्रालय की मांग भी निरंतर उठा रही है और मुझे आशा है कि पिछड़ों व दलित समाज के विकास को लेकर सदैव चिंतित रहने वाले प्रधानमंत्री पिछड़ों के इस ज्वलंत मांग को भी पूरा करेंगे। इस अवसर पर प्रमुख रूप से मंगल सिंह पटेल, राजकिशोर पटेल, ओमप्रकाश पटेल, लालबहादुर पटेल, विष्णु पटेल, अमर सिंह रैकवार, रवि चंद्र बाल्मीकि, संजय सिंह यादव आदि उपस्थित थे।

DVNA