home page
up abtk

दो साल के मासूम की गहरे सीवर टैंक में गिरने से मौत, मचा कोहराम

कानपुर। सचेंडी नई बस्ती बंगाली कॉलोनी में भाईदूज पर चौबेपुर से मायके आई महिला के...
 | 

कानपुर। सचेंडी नई बस्ती बंगाली कॉलोनी में भाईदूज पर चौबेपुर से मायके आई महिला के दो साल के बच्चे की घर के बाहर आठ फिट गहरे सीवर टैंक में गिरने से मौत हो गई। लोग सीढ़ी लगा टैंक में घुसे और शव बाहर निकाला। घटना से परिवार में कोहराम मच गया।

चौबेपुर के गबड़हा गांव निवासी किसान रमेश कुमार की पत्नी अंशिका भाई दूज पर बेटी प्रिया(8),बेटा हर्षित(6) और दो वर्षीय दीपक के साथ सचेंडी में भौंती प्रतापपुर नई बस्ती बंगाली कॉलोनी में भाई अर्जुन के घर आई थी। शनिवार सुबह छोटा बेटा दीपक घर के बाहर खेल रहा था। अचानक से वह गायब हो गया। परिजन आवाज लगाते हुए उसकी तलाश करने लगे। तभी घरवालों की नजर सामने शौचालय के लिए बने सीवर टैंक पर पड़ी। वह खुला पड़ा था। आशंका पर कॉलोनी में रहने वाले रोहित कश्यप उर्फ भोला सीढ़ी लगाकर टैंक में उतरे तो बच्चे का हाथ दिखा। इसके बाद उसे बाहर निकाला गया। लोग उसे पास के निजी अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। इंस्पेक्टर रामबाबू सिंह ने बताया कि सीवर टैंक बच्चे के नाना का ही है। टैंक का करीब दो फिट हिस्सा उन्होंने ढक्कन की जगह प्लास्टिक की बोरी से ढका था।सचेंडी थाना प्रभारी रामबाबू सिंह ने बताया कि सीवर टैंक मासूम के नाना रमेश कुमार का ही है। उन्होंने ढक्कन की जगह उसे बोरी से ढक रखा था। जिसके चलते घटना हुई है।स्वजनों से घटना के संबंध में बातचीत की जा रही है। तहरीर मिलने पर विधिक कार्रवाई की जाएगी।
ग्रामीणों के मुताबिक हाल ही में एक बकरी भी खुले सीवर टैंक में गिर गई थी। तब पड़ोसी रमेश से सीवर टैंक को ढक्कन रखकर बंद कराने के लिए कहा गया था लेकिन उन्होंने नजरअंदाज कर दिया। इसी लापरवाही के चलते घटना हो गई।

DVNA