home page
up abtk

योजनाओं के नाम पर भाजपा ने महिलाओं को छला – लीलावती

फ़तेहपुर (DVNA)। मिशन 2022 के तहत प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बनाने के लिये...
 | 

फ़तेहपुर (DVNA)। मिशन 2022 के तहत प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बनाने के लिये सपा जहां लगातार कार्यकर्ता सम्मलेन कर आमजन तक पहुँच बनाने की कोशिश में लगी हुई। प्रदेश में भाजपा सरकार की नाकामियों को गिनाने के साथ ही सपा शासन की योजनाओं के दम पर एक बार फिर से रष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को सीएम बनाने की मुहिम मे लगातार कार्य कर रही है। शनिवार को जिला कार्यालय में समाजवादी पार्टी महिला सभा का कार्यक्रम महिला सभा जिलाध्यक्ष संगीता राज पासी की अध्यक्षता में आयोजित किया गया।
जिसमे मुख्य अतिथि के रूप में महिला सभा प्रदेश अध्यक्ष लीलावती कुशवाहा एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष जरीना उस्मानी ने शिकरत की। जिला कार्यालय पहुचने पर महिला कार्यकर्तिओं द्वारा महिला प्रदेश अध्यक्ष समेत अतिथियों का फूल मालाओं से स्वागत किया गया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष लीलावती कुशवाहा ने भाजपा सरकार पर महिला विरोधी कार्य करने का आरोप लगाते हुए केंद्र व प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना में फ्री गैस कनेक्शन देने का दावा करने वाली भाजपा सरकार ने गैस सिलेंडर के दामो में बेतहाशा करके महिलाओ का अपमान करने का काम किया। गैस कनेक्शन होते हुए भी लोग लकड़ी के ईंधन पर खाना बनाने को मजबूर है।
उन्होंने शौचालय योजना को आधी अधूरी बताते हुए कहाकि शौचालय योजना के नाम पर केवल छलावा किया जा रहा है। इज््ज़त घर नाम देने के बाद भी शौचालयों में पानी की टंकी व नल का कनेक्शन तक नही किया गया। उन्होंने भाजपा सरकार को महिला शिक्षा विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहाकि बेटियों को आगे की शिक्षा जारी रखने के लिये सपा सरकार ने कन्या विद्या धन योजना को लागू किया था। जिसे भाजपा सरकार ने बन्द कर महिलाओ को शिक्षित बनाने से रोकने का काम किया है। उन्होंने कहाकि देश के राजकीय उपक्रमो को निजी हाथों में सौपने से देश के युवाओं के हाथों से रोजग़ार के अवसर कम हो रहे है इससे पिछड़े व दलित समाज को मिलने वाले प्रतिनिधित्व में कमी होगी।
उन्होने सपा सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि सपा शासन में मेधावियों को लैपटॉप वितरित देने व कन्या विद्या धन देकर उन्हें आगे बढऩे का अवसर दिलाया गया। समाजवादी पेंशन के ज़रिए गरीब व कमज़ोर वर्ग की सहायता की गई। राज्य महिला आयोग की पूर्व सदस्य जरीना उस्मानी ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को ध्वस्त बताते हुए कहाकि ज़ीरो टॉलरेंस की बात करने वाली सरकार महिलाओ को सुरक्षा देने में नाकाम है।
दुष्कर्म हत्याओं के अलावा महिलाओ के साथ होने वाली घटनाए बढ़ती जा रही है। महिला सुरक्षा के लिये सपा सरकार की चलाई गई योजनाओं का नाम बदलकर मिशन शक्ति रख दिया गया। लेकिन महिलाओ की सुरक्षा में सरकार नाकाम साबित हो रही है। इन्होंने कहाकि आधी आबादी के दम पर सपा प्रदेश में अखिलेश यादव के नेतृत्व मे सरकार बनाने का काम करेगी। उन्होंने महिलाओ से चुंनाव में तन मन से जुट जाने का आह्वान किया।
इस मौके पर सपा जिलाध्यक्ष विपिन सिंह यादव, जिला पंचायत सदस्य ज्ञानमती देवी, राज्य महिला आयोग की पूर्व सदस्य नफीसा बानो, केतकी यादव, पूर्व ब्लांक प्रमुख अनीता साहू, पूर्व ब्लाक प्रमुख रीता प्रजापति, वंदना राकेश शुक्ला, ऊषा मौर्या, फहमीदा खान, तरन्नुम परवीन, कविता अग्निहोत्री, आबिद हसन, अल्पसंख्यक सभा जिलाध्यक्ष चैधरी मंजऱ यार, ओवैस फारूकी, डीजी कुशवाहा, राजू साहू, तनवीर हैदर, रहीम राइन कादरी आदि रहे।