home page

5 जरूरी सूत्र अपनाएं, कोरोना से खुद को सुरक्षित बनाएं: डा. ईश्वर चन्द विद्यासागर

 | 
5 जरूरी सूत्र अपनाएं, कोरोना से खुद को सुरक्षित बनाएं: डा. ईश्वर चन्द विद्यासागर

सिसवा बाजार-महराजगंज। कोरोना संक्रमण एक बार फिर तेजी से पाँव पसार रहा है, इसके साथ ही कोविड- 19 के नए वैरिएंट ओमीक्रोन ने भी देश में दस्तक दे दी है। ऐसे में खुद के साथ घर-परिवार व समुदाय को सुरक्षित बनाने के लिए हर किसी को पांच जरूरी सूत्रों पर अमल करना बहुत आवश्यक है, यह कहना है सिसवा पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डा. ईश्वर चन्द विद्यासागर का ।  
     उन्होने कहा यह पांच सूत्र हैं कोविड टीके की दोनों डोज लगवाना, हमेशा मास्क लगाए रखना, दो गज की शारीरिक दूरी का पालन करना, हाथों को बार-बार साबुन-पानी से धोना या सेनिटाइजर से हाथ सेनिटाइज करना और एक दूसरे से हाथ मिलाने से बचना। 
 

    उन्होने  कहा कि जहां एक और ओमीक्रोन का खतरा है वहीं कोरोना का संक्रमण फिर से बढ़ रहा है । ओमीक्रोन के बारे में विशेषज्ञों का कहना है कि यह डेल्टा  वैरिएंट के मुकाबले कम घातक है लेकिन कई गुना ज्यादा संक्रामक है,  इसका यह मतलब कदापि नहीं कि हम लापरवाही बरतें । हमें डेल्टा वैरिएंट और ओमीक्रोन दोनों के संक्रमण को रोकना है। ऐसे में हम इन पांच सूत्रों को आत्मसात कर लें तो यह हमें संक्रमण से बचाएंगे,  कोविड के दोनों टीके जहां कोरोना के विरुद्ध शरीर की प्रतिरक्षण क्षमता मजबूत करेंगे वहीं मास्क वायरस को शरीर में प्रवेश नहीं करने देगा । मास्क हमें टीबी, धूल और वायु प्रदूषण से भी बचाता है । इसके साथ ही हम यह भी ध्यान रखें कि भीड़ भाड़ वाली जगह पर जाने से बचें और दो गज की शारीरिक दूरी का पालन करें ।
 

     इसके अलावा अभिवादन के लिए जरूरी नहीं है कि हाथ ही मिलाएं। भारतीय संस्कृति के अनुरूप नमस्कार या प्रणाम करें ।  
सीएमओ ने कहा कि बाहर से घर आने पर जूते चप्पल बाहर ही उतारें क्योंकि इसके द्वारा वायरस घर के अंदर पहुंच सकता है । साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें । 
  प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डा. ईश्वर चन्द विद्यासागर ने बताया कि शादी विवाह का मौसम आने वाला है ऐसे में खास सावधानी बरतें। पांच सूत्रों का पालन करते हुए ही समारोह में शामिल हों।