home page

किसानों की एकता और आंदोलन की सफलता से भाजपा सरकार बौखलाई : अखिलेश

 | 
किसानों की एकता और आंदोलन की सफलता से भाजपा सरकार बौखलाई : अखिलेश

           लखनऊ ।  सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि किसानों की एकता और आंदोलन की सफलता से भाजपा बौखलाई है। इसीलिए भाजपा रणनीति के तहत किसानों को अपमानित कर रही है। नए-नए सजिशों के तहत किसानों को बदनाम किया जा रहा है। अखिलेश ने कहा कि भाजपा महंगाई, बेरोजगारी की बात नहीं करती है। जनता और किसानों को गुमराह करने के लिए नई-नई साजिशें रचती है। भाजपा का प्रदेश और देश के विकास और लोगों के हित से कोई मतलब नहीं है। यहां जारी बयान में यादव ने कहा कि भाजपा कार्यालय में लोकतंत्र को कमजोर करने का षडयंत्र होता है। यह राजनीतिक विरोधियों की छवि खराब करने काम करती है।
Read More- सपा बसपा कांग्रेस तथा बीजेपी सरकार पर जमकर बरसे AIMIM प्रमुख 

           यादव ने कहा कि डीजल, पेट्रोल और ईधन की की महंगाई बहुत बढ़ गयी है। खेती का लागत मूल्य बढ़ गया है। किसानों की फसल एमएसपी पर नहीं खरीदी जा रही है। भाजपा सरकार में विचौलिए मालामाल हो रहे हैं। नए कृषि कानूनों से बीजेपी ने किसानों को जो चोट दी है उसे कभी भूल नहीं सकता। कुछ पूंजीपतियों को लाभ के लिए पूरे किसानों को दांव पर लगा दिया गया है। यादव ने कहा कि भाजपा की डबल इंजन सरकार का पूरे कार्यकाल में विकास कार्य ठप रहा। विज्ञापन और प्रचार से विकास होता रहा। इन सरकारों का एक भी काम जमींन पर नहीं दिख रहा है। लाखों क रोड़ के एमओयू की बात कहीं गई लेकिन कोई रोजगार नहीं आया। किसानों की आय दुगनी करने की बात कहीं गयी लेकिन दुगनी नहीं हुई। बिजली का उत्पादन नहीं किया, कीमत बढ़ा दी। स्वास्थ्य सेवाओं को जो हाल है उससे प्रदेश की जनता बेहाल हो गयी है। अस्पतालों में बुखार की दवा नहीं मिल रही है गंभीर बीमारियों के मरीजों को कोई पूछने वाला ही नहीं है। 

Read More- शहर में डेंगू से बिगड़े हालात : ग्रामीण क्षेत्रों में स्थिति भयावह, सरकारी सिस्टम से भरोसा उठा

            यादव ने कहा कि अब जब सरकार के छह महीने से कम समय रह गये हैं, तब मुख्यमंत्री नई-नई योजनाओं की घोषणाएं कर रहे हैं। प्रधानमंत्री से नए शिलान्यास की योजना बन रही है। सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार में सडक़ें  नहीं बनी। सडक़ों में गड्ढे ही गड्ढे हो गए हैं। पुल घटिया निर्माण सामग्री लगने से टूट रहे है और मंडियों को बंद किया जा रहा है। भाजपा सरकार के कारनामों को जनता देख रही है।