home page
up abtk

कोठीभार थाना से भी जूड़े है मटर तस्करों के तार, आखिर कौन लेता है पैसा!

 | 
कोठीभार थाना से भी जूड़े है मटर तस्करों के तार, आखिर कौन लेता है पैसा!

सिसवा बाजार-महराजगंज। मटर तस्करी के मामले में वीडियो व आडियो वायरल होने पर जहां पुलिस अधिक्षक ने कड़ा तेवर अपनाते हुए सिसवा पुलिस चौकी प्रभारी साहित चौकी के 10 आरक्षी व कोठीभार थाने के मुख्य आरक्षी को लाइन हाजिर कर दिया वही इस वीडियो व आडियो में कोठीभार थाने में लाइन देनें की बात सुनी जा सकती है, ऐसे में क्या सिसवा पुलिस चौकी के बाद कोठीभार थाना पर भी भी कार्यवाही होगी!
     बताते चले पिछले दिनों मटर तस्करी को लेकर सिसवा पुलिस चौकी के सिपाही शरद यादव ने चौकी प्रभारी पर तस्करों से मिली भगत का एक वीडियो वायरल किया था, पुलिस अधिक्षक प्रदीप गुप्ता द्वार सीओ निचलौल से इस मामले की जांच शुरू करयी जा रही थी, कि दूसरी सुबह एक दूसरा वीडियो वायरल हुआ जिसमें एक तस्कर तुफान नामक सिपाही को 5 हजार रूपया देने के साथ ही थाने पर लाइन देने का खुलासा किया, तस्कर के बगल में थाने के मुख्य आरक्षी छोटेलाल यादव भी वीडियो में साफ दिखाई दे रहे है, इस के बाद एक कथित रूप से आडियो वायरल हुआ जिसमें तस्करों की गाड़ी को न रोकने की बात कही जा रही है, वही जब एक तरफ से आवाज आ रही है कि कुछ लाइन वाले है तो कुछ बिना लाइन के चल रहे है, तो दूसरी तरफ से यह कहा जा रहा है कि अपने इंस्पेक्टर से मिलो, इस के बाद कुछ और जो बाते हुयी है वह मामले को साफ कर देता है कि मटर तस्कर थाना पर भी पैसा देते है और इंस्पेक्टर की जानकारी में है ऐसे में कोई रास्ते में उनके गाड़ी को न रोके।
    यह वायरल आडियो लाइन हाजिर हुए शरद यादव, सिसवा पुलिस चौक प्रभारी प्रवीण सिंह व कोठीभार थाना के मुख्य आरक्षी छोटे लाल यादव की बतायी जा रही है, ऐसे में थाना पर वह कौन-कौन है जो तस्करों से लाइन लेते है, यूपी अबतक हम इस आडियो व वीडियो की पुष्टि नही करते है।
      वही वायरल आडियो की माने तो तस्करों के लाइन का खेल सिर्फ सिसवा पुलिस चौकी से ही नही बल्कि कोठीभार थाना से भी जूड़ा हुआ है, क्यों कि सिसवा पुलिस चौकी क्षेत्र मे प्रवेश करने से पहले कोठीभार थानाक्षेत्र में आना होगा फिर सिसवा पहुंचेंगे, वैसे भी वायरल वीडियो व आडियो में कोठीभार थाना में लाइन देने की बाते सूनी जा सकती है।
        वैस इस मामले में एसपी प्रदीप गुप्ता ने कड़ी कार्यवाही करते हुए सिसवा पुलिस चौकी प्रभारी सहित पुलिस चौकी के 10 आरक्षी व कोठीभार थाना के एक मुख्य आरक्षी को लाइन हाजिर कर दिया, अब सवाल यह है कि क्या कोठीभार थाना पर भी कार्यवाही की तलवार लटक रही है!