April 18, 2024
तो हेवती में देशी शराब की भठ्ठी पर हो रह है ओवर रेटिंग का खेल!

कानपुर। काकादेव थाना क्षेत्र में रविवार को वार्ड 33 के भाजपा BJP पार्षद घनश्याम गुप्ता के बड़े भाई प्रेमनारायण (59) ने मानसिक बीमारी से ऊबकर फंदा लगाकर जान दे दी। मौके पर पहुंची बेटी ने पिता का शव फंदे से लटका देखकर पुलिस को सूचना दी। फोरेंसिक के साक्ष्य जुटाने के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

विजयनगर निवासी प्रेम नारायण की पत्नी कमलेश की 2021 में बीमारी के चलते मौत हो गई थी। तीन बेटियों की शादी करने के बाद वह घर पर अकेले ही रहते थे। शादी के बाद मोहल्ले में ही रहने वाली बड़ी बेटी अंजली ही पिता की देखरेख करती थी। अंजली के मुताबिक पिता प्रेम नारायण का करीब पांच सालों से मानसिक बीमारी का इलाज चल रहा था। करीब 20 दिनों से वह बहुत अधिक मानसिक तनाव में रह रहे थे। अंजली रोज पिता के घर पर आकर उनका खाना बना जाती थीं। रविवार सुबह जब घर पहुंचीं तो सारे दरवाजे खुले पाए। किचन में जाकर देखा तो पिता का पंखे के कुंडे से शव लटकता देख चीख पड़ीं।

थाना प्रभारी विनय शर्मा ने बताया कि अधेड़ ने मानसिक बीमारी से ऊबकर फंदा लगाया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!