April 21, 2024
Gorakhpur- सेण्ट ऐण्ड्रयूज कॉलेज में दो दिवसीय किशोर स्वास्थ्य अभिविन्यास कार्यशाला का हुआ उद्घाटन

Gorakhpur- Two-day adolescent health orientation workshop inaugurated at St. Andrews College

Gorakhpur। सेण्ट ऐण्ड्रयूज कॉलेज गोरखपुर के स्थापना के 125वें वर्ष मे प्रवेश के कार्यक्रमों के क्रम में राष्ट्रीय सेवा योजना द्वारा 13 मार्च, 2024 से 14 मार्च, 2024 तक आयोजित एवं सिफ्सा वित्तपोषित दो दिवसीय किशोर स्वास्थ्य अभिविन्यास कार्यशाला का उद्घाटन आज भूगोल विभाग में किया गया। उद्घाटन सत्र में मुख्य अतिथि के रुप में पधारे कॉलेज के हिन्दी विभाग के प्रोफेसर सुशील कुमार राय ने कहा कि किशोरावस्था में मन के भ्रम को दूर करने के लिए हम अपने दोस्तों का सहारा लेते है जो अधिकतर आधी-अधूरी या गलत जानकारी देते है। इस तरह की कार्यशालाओं से सही जानकारी आप तक उपलब्ध होगी।

आयोजन सचिव के रूप में सिफ्सा के नोडल अधिकारी एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी डॉ0 जे0के0 पांडेय ने कार्यशाला की रूप-रेखा प्रस्तुत करते हुए कहा कि जीवन के प्रति सही दृष्टिकोण विकसित करने के लिए छात्र छात्राओं को प्रशिक्षित करने हेतु यह कार्यशाला आयोजित की गई है। इसके माध्यम से किशोरावस्था में होने वाले परिवर्तनों से लेकर परिवार नियोजन तक की सही जानकारी दी जाएगी ताकि उनमें गलत व सही के बीच में अंतर पहचान कर सही निर्णय लेने की क्षमता विकसित हो सकें। कार्यक्रम का संचालन डॉ0 जे0के0 पाण्डेय ने तथा धन्यवाद ज्ञापन डॉ0 (श्रीमती) सुनीता पॉटर ने किया।

तकनीकी सत्र में मुख्य ट्रेनर के रूप में भूतपूर्व कार्यक्रम अधिकारी डॉ0 सुनीता पाटर ने उत्तर प्रदेश में युवाओं की स्थिति, समाज में लड़के-लड़की के प्रति भेद-भाव, नशीले पदार्थों से होने वाले नुकसान तथा पोषण विषय पर किशोरियों को जागरूक किया। ट्रेनर तथा भूतपूर्व कार्यक्रम अधिकारी डॉ0 पूजा आनन्द ने स्वेच्छा से माता-पिता बनना, न कि संयोग से, प्रजनन अंगों के संक्रमण आदि विषयों पर अपने विचार रखें। डॉ0 जे0 के0 पांडेय ने एनीमिया तथा कानूनी अधिकारों आदि विषयों पर प्रकाश डाला।
कार्यशाला में भूगोल विभाग के कुल 60 छात्र-छात्राओं ने प्रतिभागिता की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!