May 22, 2024
Inspector Committed Suicide-इंस्पेक्टर ने किया सुसाइड, कमरे में लटका मिला शव, मौके पर पहुंची डॉग स्क्वायड और फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम

Inspector Committed Suicide उन्‍नाव। सफीपुर कोतवाली के कोतवाल 34 वर्षीय अशोक कुमार वर्मा का शव थाना परिसर स्थित कमरे में फंदे पर लटका मिला। सूचना मिलते ही एसपी सिद्धार्थ शंकर मीणा समेत सीनियर अफसर मौके पर पहुंच गए, शव के पोस्टमार्टम के बाद एसपी ने कंधा देकर शव को उनके गृह जनपद के लिए रवाना किया।

Inspector committed suicide, dead body found hanging in the room, dog squad and forensic expert team reached the spot

Inspector Committed Suicide-इंस्पेक्टर ने किया सुसाइड, कमरे में लटका मिला शव, मौके पर पहुंची डॉग स्क्वायड और फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम
Inspector Committed Suicide

सुसाइड से कुछ देर पहले उनकी पत्नी से फोन पर बात हुई थी। थोड़ी देर बाद पत्नी ने कॉल किया तो फोन पिक नहीं हुआ। इसके बाद उन्होंने थाने के एक सिपाही को फोन किया कि साहब का फोन नहीं उठ रहा है, एक बार जाकर देखिएगा। थाने से 10 कदम की दूरी पर कमरे में पहुंचकर सिपाही ने दरवाजा खटखटाया। लेकिन, काफी देर तक कोई रिस्पांस नहीं मिला। इसके बाद उसने खिड़की खोलकर देखी तो इंस्पेक्टर का शव अंदर फंदे पर लटक रहा था, तुरंत एसपी सिद्धार्थ शंकर मीणा समेत सीनियर अफसर मौके पर पहुंच गए।

Inspector Committed Suicide-इंस्पेक्टर ने किया सुसाइड, कमरे में लटका मिला शव, मौके पर पहुंची डॉग स्क्वायड और फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम
Inspector Committed Suicide

मिली जानकारी मुताबिक, इंस्पेक्टर ने देर रात पिखी गांव से नाइट गश्त की। इसके बाद वह थाना आए। यहां रात 11 बजे तक काम निपटाया। इसके बाद थाना परिसर में सरकारी आवास में चले गए। आशंका है कि थोड़ी देर बाद ही उन्होंने सुसाइड कर लिया। एसपी ने थाने में मौजूद सिपाहियों से भी बात की। उन्होंने बताया कि वह किसी तरह के तनाव में नजर नहीं आ रहे थे। एकाएक क्या हुआ जो सुसाइड कर लिया? यह बात किसी को समझ नहीं आ रही है।

अमरोहा जिला के नौगावां क्षेत्र के आइयापुर गांव निवासी अशोक कुमार वर्मा के पिता विक्रम दरोगा थे, उनकी बीमारी से मौत के बाद इनको नौकरी मिली थी। अशोक वर्मा2012 बैच के दारोगा थे और एक साल पहले प्रोन्नत होकर इंस्पेक्टर बने थे, उनके 12 साल का बेटा और 13 साल की बेटी है।
एसपी सिद्धार्थ शंकर मीणा ने बताया कि सुसाइड के कुछ देर पहले अशोक कुमार वर्मा की पत्नी से बात हुई थी। सुसाइड क्यों किया? इसको लेकर जांच की जा रही है। परिवार को सूचना भेजी गई है। उनके आने पर स्थिति स्पष्ट होगी। डॉग स्क्वायड और फॉरेंसिक एक्सपर्ट को मौके पर बुलाया। टीम ने परिसर के अंदर और आवास में पहुंचकर घटना से संबंधित साक्ष्य जुटाए। हालांकि, प्रथम दृष्टया पुलिस सुसाइड की वजह पत्नी से विवाद और पारिवारिक कलह मान रही है।

पोस्टमार्टम होने के बाद शव पुलिस लाइन पहुंचा, जहां उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर देकर मौजूद पुलिसकर्मियों ने 2 मिनट का मौन रखा, इस दौरान डीएम अपूर्वा दुबे, एसपी सिद्धार्थ शंकर मीणा, अपर पुलिस अधीक्षक शशी शेखर सिंह, क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार, सीओ हसनगंज संतोष कुमार सिंह, सीओ ऋषिकांत शुक्ला, सीओ पंकज सिंह समेत जनपद के कई थानेदार मौजूद रहे, इसके बाद एसपी ने कंधा देकर शव को उनके गृह जनपद के लिए रवाना किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!