April 18, 2024
सिपाही बनते ही बदल गया पत्नी का व्यवहार, अब कहती है दूर रहो

प्रयागराज। एसडीएम ज्योति मौर्य और उनके पति आलोक मौर्य का मामला पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया पर चल रहा है, जगह-जगह चर्चाएं भी हो रही है पति द्वारा अपनी पत्नी को पढ़ाने के बाद जो धोखा मिल रहा है, आखिर समाज किस तरफ जा रहा है, ऐसा ही एक मामला और सामने आया है जहां पति हर जतन कर अपनी पत्नी को लिखा पढ़ा कर पुलिस की नौकरी दिलाई लेकिन अब पत्नी अपने पति को दुत्कार रही है, पति के अनुसार सिपाही पत्नी अब उसकी जान की दुश्मन बन चुकी है।

प्रयागराज जिले के मेजा के जरार गांव के रहने वाले रविंद्र कुमार के अनुसार शादी के बाद उसने अपनी पत्नी को पढ़ाने के लिए हर जतन किया, इधर-उधर नौकरी करके पैसों का इंतजाम करने के साथ ही पत्नी को पढ़ाने के लिए जमीन तक बेच डाली, और जब पत्नी को यूपी पुलिस में नौकरी मिल गयी तो उसका व्यवहार बदल गया, वह दूर रहने लगी।
रविंद्र कुमार पत्नी को मनाने के लिए गाजीपुर जिले के उस थाने पहुंचा जहाँ पत्नी की तैनाती है और पत्नी को साथ रखने के लिए बोला तो सिपाही पत्नी ने उसे भला-बुरा कहते हुए भाग जाने को कहा, इस दुत्कार से रविंदर अपने गांव लौट आया।

वही रविंद्र की मां ने बताया कि वह अपने इकलौते बेटे रविन्द्र की शादी वर्ष 2016 में मांडा के एक गांव में 11वी पास सुषमा किया, बेटे ने पैसो की व्यवस्था कर शादी के बाद उसे 12वीं और बीए की परीक्षा दिलाई, जिसके बाद सुषमा को पुलिस की नौकरी दिलवाई तो घर मे खुशी छा गई।
लेकिन पुलिस की नौकरी पाते बहू का व्यवहार बदल गया, ससुराल से ज्यादा मायका से मतलब रखने लगी और ससुराल आने से इंकार कर रही है, इसके लिए बिरादरी से पंचायत भी कराई लेकिन कुछ ना हो सका।

एसडीएम ज्योति मौर्य और उनके पति आलोक मौर्य का मामला इस समय सुर्खियों में है, इसके साथ ही तमाम और जगहों से ऐसे मामले सामने आते जा रहे हैं, ऐसे में अब काफी चर्चा होने लगी है कि एक पति अपने पत्नी को पढ़ाने के लिए दिन रात मेहनत कर रहा है और जब पत्नी सफलता के शिखर छू रही है तो इनका व्यवहार क्यों बदल जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!