February 22, 2024
पहले से हैं 14 बच्चे और PM Modi को मानती है अपना सबसे प्यारा बेटा, देना चाहती है 25 बीघा जमीन

राजगढ़। मध्यप्रदेश के राजगढ़ में एक मां ऐसी भी है, जो प्रधानमंत्री मोदी PM Modi को अपना बेटा मानती है। वे प्रधानमंत्री को 25 बीघा जमीन देना चाहती है। हालांकि इस लगभग 100 वर्षीय महिला के पहले ही 14 बेटे-बेटियां हैं। प्रधानमंत्री मोदी दुनियाभर में काफी लोकप्रिय हैं लेकिन मध्य्रपदेश के राजगढ़ में उनकी लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि लगभग 100 साल की बुजुर्ग महिला उनको अपना बेटा मानती है और खुद के 14 बच्चे होने के बावजूद अपनी 25 बीघा जमीन पीएम मोदी के नाम करना चाहती है। इस क्षेत्र में जमीन की कीमत पांच लाख रुपए प्रति बीघा है। वीडियो वायरल होने के बाद यह मामला प्रकाश में आया है।

Already has 14 children and considers PM Modi as her dearest son, wants to give 25 bighas of land

मांगी बाई तंवर

जानकारी के अनुसार भाजपा के अभियान के तहत कार्यकर्ता गांव में पहुंचे थै। इस दौरान जब कार्यकर्ता बुजुर्ग महिला से चर्चा कर रहे थे तो मांगी बाई ने मोदी जी के प्रति प्रेम जाहिर करते हुए यह बताया कि मैं 25 बीघा जमीन दान कर सकती हूँ। प्रशासनिक स्तर पर जब खिलचीपुर तहसीलदार विकास रघुवंशी से चर्चा की गई तो उन्होंने बताया कि ऐसा कोई आवेदन जानकारी में नहीं है कि किसी महिला ने मोदी जी को जमीन दान करने की जानकारी दी है।

मांगी बाई तंवर

राजगढ़ की इस बुजुर्ग महिला का नाम मांगी बाई तंवर है। वह राजगढ़ जिला मुख्यालय से 65 किमी दूर स्थित हरिपुरा जागीर गांव की रहने वाली है। वह कहती हैं कि मोदी हमें गेंहू चावल दे रहा है। फ्री में इलाज करा रहा है, फसल खराब होने पर मुआवजा देता है। जिंदगी गुजारने के लिए विधवा पेंशन दे रहा है। हमें तीर्थ कराए, हमें रहने के लिए घर बनाकर दिए हैं। वो मेरा बेटा है, मेरा लाल है, मेरा भगवान है।

मांगी बाई तंवर ने घर पर पीएम मोदी की तस्वीर लगा रखी है। वो कहती हैं कि सुबह उठकर रोज अपने लाल मोदी का चेहरा देखती हूं, उसे आशीर्वाद देती हूं। लेकिन मन में एक बार मोदी से मिलने की इच्छा है, उसे आशीर्वाद देना चाहती हूं और मेरे पास जो 25 बीघा जमीन है, वो भी मोदी को देना चाहती हूं। बुजुर्ग मांगी बाई तंवर के 14 बेटे-बेटियां हैं लेकिन वो पीएम मोदी को ही अपना सबसे प्यारा बेटा मानती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!