February 21, 2024
जब तीन घरों से एक साथ उठी पांच अर्थियां तो सिसक उठा पूरा गांव, छलक पड़ी हर आंखें

रायबरेली। जब गांव के तीन परिवारों के पांच बच्चो की एक साथ अर्थियाँ उठी तो पूरा गांव रो पड़ा।गांव की हर आंख छलक पड़ी। पूरे गांव ने नम आंखों से इन मासूमों को विदा किया।इस हादसे में जहां संजू दोनो संताने बेटा और बेटी काल के गाल में समा गए। वहीं विक्रम ने अपनी दो बेटियां खोई तो जीतू की एक बेटी इस हादसे का शिकार हो गई।

नाले के तालाबी रुप की जद में आए पांच मासूम की मौत ने बासी रिहायक के मंगता डेरा गांव को झकझोर कर रख दिया। ग्रामीण स्तब्ध है और पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है। पोस्टमार्टम के बाद रविवार को पांचों मासूमो की एक साथ अर्थी उठी।जहां ग्रामीणों ने नम आंखों से अंतिम विदाई दी।

गदागंज थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत बासी रिहायक का मंगता डेरा गांव जहां लगभग 80-90 घरों की बस्ती है। इस छोटे से गांव में शनिवार को घटित बड़ी घटना में गांव के रहने वाली बालिका रीतू उम्र 8 वर्ष, सोनम उम्र 10 वर्ष, वैशाली उम्र 12 वर्ष, रूपाली उम्र 9 वर्ष व अमित उम्र 8 वर्ष तथा संदिका पुत्री मान सिंह , खुशी पुत्री मोनू विशेष पुत्र दिनेश शनिवार को करीब 11 बजे गांव के पास स्थित एक नाले में जो मिट्टी काटने से छोटे तालाब का रूप ले चुका था उसमे में एक साथ नहाने गए हुए थे।

नहाते समय सभी बच्चे तालाब के अंदर गहरे पानी में चले गए। जिसके कारण बच्चे डूबने लगे। बच्चों की चीख-पुकार सुनकर बच्ची सोनिका जो अपने बकरे को चराने गई थी। उसने रस्सी डाल कर तीनों को निकाला और बाकी बच्चो के पानी डूबने की सूचना गांव वालो को दी। लोगों ने कूदकर बाकी बच्चों को बाहर निकाला लेकिन तब तक रितु, सोनम , बैशाली , रूपाली और अमित उर्फ विक्की की मौत हो चुकी थी। जबकि संदिका ,खुशी और विशेष की सांसे चल रही थी।

तीनों को दीनशाह गौरा सीएचसी अधीक्षक ज्ञान सिंह सिसौदिया की टीम ने सभी का परीक्षण किया जब इन को राहत मिल गई तो वह टीम बाहर गई।गांव में एक साथ पांच अलग-अलग परिवारों के बच्चों की मौत के बाद कोहराम मच गया था।
एक छोटे से गांव में घटी बड़ी घटना से पूरे गांव में शोक की लहर फैल गई। गांव में गमगीन माहौल में सभी को अंतिम विदाई दी गई।जब पांचों बच्चों की एक साथ अर्थी उठी तो आंखें नम हो गई। मां और अन्य रिश्तेदारों सहित पूरा गांव रो पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!