July 9, 2024
युवा जनकल्याण समिति के दस प्रकोष्ठों का हुआ गठन

गोरखपुर। समाजसेवा जैसे पूनित कार्यों मे समाज के सभी वर्गों का वर्तमान समय मे अधिक उत्सुक्ता व झुकाव को देखते हुए सामाजिक,धार्मिक व राष्ट्रवादी विचारधारा युक्त संस्था युवा जनकल्याण समिति ने कार्यकारिणी का विस्तार किया।

संस्था प्रमुख व अध्यक्ष युवा समाजसेवी कुलदीप पाण्डेय ने संस्था के संस्थापक व संरक्षक पं. बृजेश पाण्डेय ज्योतिषाचार्य का आदेश प्राप्त कर संस्था के वरिष्ठ पदाधिकारीगण उपाध्यक्ष अविनाश चौबे,महासचिव अखिलेश मल्ल, कोषाध्यक्ष रमेश पाण्डेय,सचिव राजकुमार जायसवाल,उप सचिव राहुल श्रीवास्तव,संयोजक निखिल गुप्ता,सचिव नितिन श्रीवास्तव एवं कार्यालय प्रभारी शिवा जायसवाल के प्रस्ताव पर दस प्रकोष्ठों के गठन कि घोषणा किये।

अध्यक्ष कुलदीप पाण्डेय से वरिष्ठ पदाधिकारियों ने बताया कि समाज के विभिन्न कार्यक्षेत्र व वर्गों से हजारों कि संख्या मे लोग संस्था से जूड़कर समाज सेवा एक सच्ची डगर मिशन को सार्थक बनाना चाहते है.संस्था के कार्यक्षेत्र व कार्यकारिणी के दस प्रकोष्ठों का गठन कर समाज के युवाओं ,महिलाओं, छात्रों, व्यापारियों,अधिवक्ताओं, अल्पसंख्यकों, किसानों, प्रबुद्धों, विद्वतजनों, वरिष्ठ नागरिकों तथा चिकित्सकों आदि को संस्था के एक मंच पर लाने तथा समाज मे पनप रही कुरितियों के शमन व असहायों कि सेवा तथा देश व समाज के प्रति समर्पण एवं जनमानस मे चेतना जागृत करने के लिए सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश मे दस प्रकोष्ठों युवा चेतना प्रकोष्ठ,मातृशक्ति (नारी) चेतना प्रकोष्ठ, विद्यार्थी (छात्र)चेतना प्रकोष्ठ,अधिवक्ता चेतना प्रकोष्ठ, विद्वतजन/प्रबुद्ध चेतना प्रकोष्ठ, अल्पसंख्यक चेतना प्रकोष्ठ,व्यापार मण्डल चेतना प्रकोष्ठ,चिकित्सा चेतना प्रकोष्ठ, वरिष्ठ नागरिक चेतना प्रकोष्ठ तथा किसान चेतना प्रकोष्ठ जैसे दस प्रकोष्ठों के गठन कि घोषणा किया गया।

संस्था प्रमुख व अध्यक्ष कुलदीप पाण्डेय ने कहा कि नर सेवा नारायण सेवा के उद्देश्यपरक सभी प्रकोष्ठों के पदाधिकारीगण अपने दायित्वों का निर्वहन करते हुए प्रदेश के समस्त जिलों मे सामाजिक धार्मिक एवं राष्ट्रवादी विचारधारा युक्त से प्रेरित लोगों को जोड़ने का कार्य करेंगे जो पूर्णतरू गैर राजनितिक होगा, शिघ्र ही महानगर गोरखपुर के 80 वार्डों व 16 मण्डलों के अध्यक्ष के साथ अन्य पदाधिकारियों की घोषणा की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!