June 14, 2024
Gorakhpur News- विवेकानन्द जी की जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस युवाओं व विद्यार्थियों के लिए महापर्व के समान: कुलदीप पाण्डेय

Gorakhpur News गोरखपुर। सामाजिक संगठन युवा जनकल्याण समिति गोरखपुर संस्थापक ज्योतिषाचार्य पं. बृजेश पाण्डेय के निर्देशन मे अध्यक्ष युवा समाजसेवी कुलदीप पाण्डेय ने देश के महान विचारक व युवाओं के प्रेरणास्त्रोत स्वामी विवेकानन्द जी के जयंती पर राजेंद्र नगर पश्चिमी गोकुलधाम में संचालित विवेकानन्द आदर्श निरूशुल्क पाठशाला के होनहार बच्चों के साथ हर्षाेल्लास पूर्ण जयंती मनायी।

Gorakhpur News- विवेकानन्द जी की जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस युवाओं व विद्यार्थियों के लिए महापर्व के समान: कुलदीप पाण्डेय
Gorakhpur

जयंती कार्यक्रम के दौरान सर्वप्रथम अध्यक्ष युवा समाजसेवी कुलदीप पाण्डेय,समाजसेवी निखिल गुप्ता,नितिन श्रीवास्तव तथा आनन्द पाण्डेय ने स्वामी विवेकानन्द जी कि प्रतिमा पर तिलक चंदन लगाकर माल्यार्पण व पुष्प अर्पण किये व धूप दीप प्रज्वलित कर विवेकानन्द जी को स्मरण किये. इस दौरान होनहार बच्चों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुति भी किया गया और तिरंगा झण्डा लेकर जयघोष हुआ।

Gorakhpur News- विवेकानन्द जी की जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस युवाओं व विद्यार्थियों के लिए महापर्व के समान: कुलदीप पाण्डेय
Gorakhpur

स्वामी जी को अपना आदर्श मानकर चलने वाले युवा समाजसेवी कुलदीप पाण्डेय ने स्वयं द्वारा निर्मित युवा जनकल्याण समिति नामक संगठन से जरूरतमंद होनहार बच्चों को निःशुल्क शिक्षा प्रदान करने हेतु विगत चार वर्ष पूर्व विवेकानन्द आदर्श नि:शुल्क पाठशाला भी प्रारंभ किये.कुलदीप पाण्डेय ने जयंती समारोह में उपस्थित पाठशाला के होनहार बच्चों को विवेकानन्द जी कि जीवनी, कृतियां,देश के प्रति योगदान व उनके अनमोल वचनों व विचारों को विस्तार पूर्वक कहानी के रूप में बताया और कहा कि विवेकानन्द जी के 12 जनवरी कि जयंती को सम्पूर्ण भारत वर्ष राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाते हैं जिसको हम सभी आज स्मरण कर जयंती मना रहे हैं।

Gorakhpur News- विवेकानन्द जी की जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस युवाओं व विद्यार्थियों के लिए महापर्व के समान: कुलदीप पाण्डेय
Gorakhpur

युवा समाजसेवी ने बच्चों में चाकलेट वितरित कर जयंती पर प्रसन्नता भी व्यक्त किये तथा कहे स्वामी जी आध्यात्म,भारत की प्राचीन संस्कृति, हिन्दू धर्म द्वारा दूसरे धर्मों को प्रश्रय देकर उन्हें गले लगाने के साथ-साथ सर्वधर्म सम्भाव और भारत की स्वाधीनता में अपना अतुलनीय योगदान दिये. विवेकानन्द जी ने समाज में शिक्षा प्रद अपने अनमोल विचार भी दिये जिसमें प्रमुख्यतरू उठो, जागो और तब तक नहीं रुको जब तक लक्ष्य ना प्राप्त हो जाये, हम जो बोते हैं वो काटते हैं,हम स्वयं अपने भाग्य के निर्माता हैं आदि वाक्य युवाओं में सकारात्मक ऊर्जा का संचार कराता है,उनके जयंती पर हम सभी उन्हें सत सत नमन करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!