February 25, 2024
पंजाब सरकार शुरू करने जा रही है फरिश्ते स्कीम, सड़क दुर्घटना पीड़ितों को मुफ्त इलाज, अस्पताल पहुंचाने वाले को 2 हजार रुपए का पुरस्कार

पंजाब। मुख्यमंत्री भगवंत मान की पंजाब सरकार फरिश्ते स्कीम शुरू करने जा रही है। इस संबंधी जानकारी देते हुए पंजाब के वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा व स्वास्थ्य मंत्री डॉ. बलबीर सिंह ने जानकारी देते हुए कहा कि सी.एम. मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार के पास राज्य के लोगों के लिए विश्व स्तरीय स्वास्थ्य सुविधाएं सुनिश्चित करने के लिए धन की कोई कमी नहीं है।

डॉ. बलबीर सिंह ने कहा कि पंजाब सरकार फरिश्ते स्कीम शुरू करने के लिए पूरी तरह तैयार है, जिसके तहत सड़क दुर्घटना पीड़ितों का दुर्घटना के पहले 48 घंटों के भीतर मुफ्त इलाज किया जाएगा, चाहे वे किसी भी राज्य के हों। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार सड़क दुर्घटना के पीड़ितों को निजी अस्पतालों सहित आसपास के सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज सुनिश्चित करेगी।
स्वास्थ्य मंत्री ने अधिक जानकारी देते हुए कहा कि सड़क दुर्घटना पीड़ितों को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाने वाले को 2 हजार रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। साथ ही, पीड़ित को अस्पताल लाने वाले व्यक्ति से पुलिस या अस्पताल प्रशासन तब तक पूछताछ नहीं करेगा, जब तक वह खुद चश्मदीद गवाह नहीं बनना चाहता।

इस दौरान उन्होंने स्वास्थ्य से संबंधित चल रही विकास परियोजनाओं की भी समीक्षा की, जिसमें अत्याधुनिक स्वास्थ्य सुविधाओं, एकीकृत सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रयोगशालाओं, 3 सरकारी अस्पतालों-एमसीएच धुरी अस्पताल, सीएचसी कौहरिया और चीमा अस्पताल सहित महत्वपूर्ण देखभाल ब्लॉकों का प्रावधान शामिल है।

डॉ. बलबीर ने कहा कि जल्द ही सभी जिला अस्पतालों, सब डिवीजन अस्पतालों और कम्यूनिटी स्वास्थ्य केंद्रों में एक्स-रे और अल्ट्रासाउंड सुविधाएं प्रदान की जाएंगी, जबकि 19 जिला अस्पतालों, 6 सब डिवीजन अस्पतालों और 15 कम्यूनिटी स्वास्थ्य केंद्रों (सीएचसी) सहित 40 अस्पतालों को राज्य स्तर पर अपग्रेड किया जा रहा है। 550 करोड़ रुपए की लागत से अत्याधुनिक सुविधाएं और उपकरण ताकि लोग सरकारी अस्पतालों में विश्व स्तरीय स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ उठा सकें।

पंजाब सरकार इलाज के लिए आने वाले लोगों की सहायता और उचित मार्गदर्शन के लिए सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं पर रोगी सुविधा केंद्र स्थापित करने जा रही है। ऐसा एक केंद्र पायलट आधार पर राजिंदरा अस्पताल, पटियाला में स्थापित किया जा रहा है। निःशुल्क दवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है और किसी भी सरकारी स्वास्थ्य केंद्र पर दवाओं की कमी नहीं होने दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!