June 22, 2024
छितौनी-तमकुही रेल परियोजना, जनता होने लगी गोलबंद, जमीन से लेकर संसद तक होगी लड़ाई

छितौनी-कुशीनगर। छितौनी तमकुही रेल व चीनी मिल शुरू करने के लिए संघर्ष समिति का गठन होने के बाद सदस्यों ने हस्ताक्षर अभियान की शुरूआत किया है, जिसमें लगभग 5 लाख हस्ताक्षर करवरकर रेल मंत्री से एक प्रतिनिधि मंडल मिलेगा और यह लड़ाई अब जमीन से लेकर दिल्ली के संसद भवन तक होगी।

छितौनी-तमकुही रेल परियोजना, जनता होने लगी गोलबंद, जमीन से लेकर संसद तक होगी लड़ाई

बताते चलें छितौनी रेलवे स्टेशन पर कभी ट्रेनों का आवागमन होता था, चीनी मिल में गन्ने की पेराई भी होती थी लेकिन जहां सभी शहरों का विकास शुरू हुआ तो वही छितौनी पीछे की तरफ चल पड़ा।
जब पनियावा रेल पुल का निर्माण हुआ और पनियहवा रेलवे स्टेशन से ट्रेन वाल्मीकि नगर होते हुए बगहा कर मोड़ दिया गया तब से छितौनी रेलवे स्टेशन को बंद कर दिया गया, इसके बाद चीनी मिल भी बंद हो गई ऐसे में छितौनी बाजार के लिए रेलवे स्टेशन से ट्रेनों का और चीनी मिल बंद होना व्यापारियों के लिए एक दुखद घड़ी थी, इसके बाद छितौनी तमकुही रेल मार्ग परियोजना सामने आई जिसमें छितौनी से तमकुही रोड तक नई रेल लाइन बिछाने का प्रस्ताव था, इस के बाद काम शुरू हुआ, पनियहवा से छितौनी रेलवे स्टेशन तक रेलवे लाइन बिछाई गई,तो वही छितौनी रेलवे स्टेशन का निर्माण भी हुआ, कहा कहा रेलवे स्टेशन बनेंगे नाम भी सामने आ गया, कुछ जमीनों को अधिग्रहित भी किया गया ऐसे में क्षेत्र वासियों को लगा कि छितौनी अब विकास के रास्ते पर होगा लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ, मामला वहीं ठंडा बस्ती में पड़ गया और आज भी छितौनी के लोग रेल व चीनी मिल के लिए शुरू कराने के लिए आंदोलित है।

छितौनी-तमकुही रेल परियोजना, जनता होने लगी गोलबंद, जमीन से लेकर संसद तक होगी लड़ाई

छितौनी तमकुही रेल परियोजना व चीनी मिल को शुरू करने के लिए छितौनी तमकुही रेल व चीनी मिल चलाओ संघर्ष समिति का गठन कर समिति के सदस्यों ने हस्ताक्षर अभियान की भी शुरुआत की है।
हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत छितौनी बाजार में समिति के संरक्षण को एमएलसी बगहा भीष्म साहनी ने हस्ताक्षर करके किया।
इस मौके पर संघर्ष समिति के पदाधिकारी मनोनयन भी किया गया, जिसमें संरक्षक एमएलसी भीष्म साहनी व अशोक निषाद, सुभाष पहलवान, अध्यक्ष संजय सिंह, संयोजक इंजीनियर राजू मल्ल, उपाध्यक्ष संजय हमदर्द, मनोज जायसवाल, दिनेश जायसवाल, प्रेमलाल गुप्त, दिनेश गुप्ता, महामंत्री मंजेश साहनी, शैलेश यदुवंशी, कोषाध्यक्ष राजेंद्र अग्रवाल, मंत्री विजय वर्मा, लाल बहादुर यादव, दिनेश पांडे, मिराज आलम, अजय वर्मा, रुस्तम अली, सलाहकार योगेश शर्मा, प्रिंशु गुप्ता, मीडिया प्रभारी सुनील साहनी व नूरुल हसन को मनोज किया गया।
इस दौरान एमएलसी भीष्म साहनी ने कहा कि रेल परियोजना शुरू होने से यूपी और बिहार दोनों राज्यों के लाखों लोग विकास के मुख्य द्वार से जुड़ जाएंगे, जमीन से शुरू हुआ या आंदोलन दिल्ली के संसद भवन तक पहुंचेगी और यह परियोजना शुरू हुई पटरी पर ट्रेन चलकर रहेगी, जदयू सदन में इस मामले को पुरजोर तरीके से उठाएगी वही अध्यक्ष संजय सिंह ने कहा कि दलगत भावना से उठकर इस आंदोलन का सपोर्ट करें, हर घर से लोग निकलेंगे और रोड पर उतरेंगे, 5 लाख लोग हस्ताक्षर कर कर रेल मंत्री से एक प्रतिमंडल मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!